DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाई के लिए मैं मां हूं

भाई के लिए मैं मां हूं

मुझे विवादों में रहना पसंद नहीं, लेकिन यह मेरी बदकिस्मती है कि विवाद मुझसे हमेशा से जुड़ते रहे हैं। मैं भी दूसरी लड़कियों की तरह हूं और मेरे फैमिली रिलेशंस भी दूसरी लड़कियों की ही तरह हैं। मैं अपने भाई-बहनों के लिए उनकी मां की तरह हूं और वे मुझे मानते भी मां की तरह हैं। मैंने बहुत बचपन से बाहर निकलकर काम करना शुरू कर दिया था और अपने परिवार की जिम्मेदारियां उठाना शुरू कर दिया था। इसीलिए वे मुझे अपनी बहन कम, मां ज्यादा मानते हैं।

अपने भाई के साथ मेरा बहुत नॉर्मल रिश्ता है। वैसा ही जैसा कि दूसरे बहन-भाइयों का होता है। हम हर त्योहार को बहुत खुशी-खुशी मनाते हैं और राखी को भी। इस दिन हम ईश्वर की पूजा करते हैं और फिर मैं अपने भाई को राखी बांधती हूं। उससे गिफ्ट भी लेती हूं। वह तो मेरा राइट है.. है ना! फिर हम सब मिलकर घर का बना खाना खाते हैं। हर त्योहार हम घर पर मनाना ही पसंद करते हैं।

भाई के अलावा मेरे कुछ राखी भाई भी हैं। राम कपूर को आप सब जानते ही हैं। वह मेरे भाई की तरह ही हैं- बड़े भाई की तरह। उनकी पत्नी गौतमी को मैं भाभी बोलती हूं। मेरे लिए वे दोनों मार्गदर्शक की तरह हैं। हर मौके पर मौजूद रहते हैं दोनों। मेरे हर फैसले में मेरा साथ देते हैं। गलत होती हूं तो डांट भी देते हैं और फिर आशीर्वाद भी देते हैं। मैं उनकी किसी भी बात पर बुरा नहीं मानती। मुङो लगता है कि जो अपना होता है, उसकी बातों का बुरा मानना भी नहीं चाहिए। मैं कभी परेशान हो जाती हूं तो उनके पास चली जाती हूं। उनका प्यार ही मेरे लिए मेरा राखी गिफ्ट है।

मेरे एक और राखी भाई हैं.. रवि किशन जी। ‘बिग बॉस’ के समय मुझे उन्हें जानने का मौका मिला था। वह बहुत डाउन टु अर्थ इंसान हैं। भोजपुरी फिल्मों के इतने बड़े स्टार होने का उन्हें बिल्कुल भी घमंड नहीं। जिस तरह मैंने इस मुकाम को हासिल करने के लिए बहुत स्ट्रगल किया है, रवि किशन जी भी बहुत स्ट्रगल करके यहां तक पहुंचे हैं, इसीलिए आदमी की कद्र करना जानते हैं। मुझे बहन बोलते हैं और हमेशा कहते हैं कि मैं बहुत भोली हूं। किसी के भी प्यार में पड़ कर अपना नुकसान कर सकती हूं।

राखी सावंत को दुनिया जितना जानती है, राखी उससे बहुत अलग है। मेरे बहुत से रूप लोगों ने टीवी पर देखे हैं, लेकिन असली राखी कौन है, बहुत कम लोग जानते हैं।गॉड जानता है असली राखी सावंत को। मैंने जिंदगी में बहुत से आदमियों को देखा है जो फेमस होने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। लेकिन ऐसे लोगों को भी देखा है जो किसी से सच्च प्यार करते हैं। मैं ऐसे लोगों की बहुत इज्जत करती हूं। प्यार के बहुत से रूप होते हैं- भाई-बहन का प्यार भी उसी का एक रूप है। अगर आपने राखी सावंत का सिर्फ ग्लैमरस रूप ही देखा है तो यह इत्तफाक है। मैं एक औरत भी हूं जिसके प्यार के बहुत से रूप हैं। बस देखने वाली नजर का फर्क  है।

प्यार के बहुत से रूप होते हैं- भाई-बहन का प्यार भी उसी का एक रूप है। अगर आपने राखी सावंत का सिर्फ ग्लैमरस रूप ही देखा है तो यह इत्तफाक है। मैं एक औरत भी हूं जिसके प्यार के बहुत से रूप हैं। बस देखने वाली नजर का फर्क  है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाई के लिए मैं मां हूं