DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ये दोस्ती हम नहीं छोड़ेंगे..फ्रेंडशिप डे आज

 भावनाएं तो भावनाएं हैं चाहे साइबर सिटी की हाई फाई युवा पीढ़ी हो या पुराने शहर के स्कूली बच्चे। फ्रेंडशिप डे के बहाने कार्ड टेडी चॉकलेट हंसी ठहाके और मिलना जुलना.। गलबहियां डाले दोस्तों की टोलियां वीकेंड पर मॉल में रौनक बढ़ा रही थी। हालांकि गिफ्ट गैलरियों के अलावा फ्रेंडशिप डे को लेकर कोई और उत्सवी माहौल नहीं बना रहा है। मगर रक्षा बंधन भी पास है सो दोनों का मिला जुला असर शहर के शॉपिंग मॉल्स में नजर आया। दोस्तों ने मूवी देखी, मॉल के टॉप फ्लोर के रेस्त्रं को गुलजार किया। दुकानों में चहके ।

यह सिलसिला संडे को भी चलेगा। रविवार को फ्रेंडशिप डे है। एक कॉल सेंटर में काम करने वाले साक्ष्य कहते हैं कि हमें ज्यादा देर ऑफिस में रहना पड़ता है। कैब से लेकर वर्किग आवर तक आधा दिन गुजर जाता है। बाकी आठ घंटे सोने और दो-तीन घंटे दूसरे कामों में। इस अनजाने शहर में ऑफिस के दोस्तों का ही सहारा  है। हमारे लिए तो सबकुछ वही हैं। लोग कहते हैं स्कूलों में दोस्ती पक्की होती है मगर हम कहते हैं। जहां इतना वक्त गुजरता है वहां कि दोस्ती क्या पक्की नहीं होगी। साथ रहते-रहते  इमोशनली हम बहुत ज्यादा जुड़ जाते हैं। फिर व्यक्त करने का एक दिन हम क्यों जाया करे। मेट्रोपोलिटन की आर्चीज गैलरी के मैनेजर धीरज ने बताया कि 365 दिनोंे के कोटेशन और फोटो वाला एक कैलेंडर दोस्तो को खूब पसंद आ रहा है। चॉकलेट का बना बेस्ट फ्रेंड मेडल भी लोग ले रहे हैं। मेडल देकर लोग मुंह मीठा करा रहे हैं। फ8ोटोफ्रेम, कोटेशन लिखा टी शर्ट मग आदि तो है ही। सिटी सेंटर ने शुक्रवार का फ्ली मार्केट बढ़ा कर रविवार तक कर दिया है। फ्रेंडशिप डे और रक्षा बंधन को लेकर यहां भी रौनक रही ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ये दोस्ती हम नहीं छोड़ेंगे..फ्रेंडशिप डे आज