DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीआर के शहरों के बीच कम होगी दूरियां

एनसीआर के शहरों की राह जल्द ही आसान हो जाएगी। इन शहरों में कॉमन ट्रांसपोर्ट सिस्टम लागू होने से साइबर सिटी से एनसीआर के शहरों के बीच परिवहन व्यस्था में व्यापक सुधार होने की उम्मीद की जा रही है। एनसीआर में चलने वाली ऑटो, कैब का लोगों और कलर भी अलग होगा। हरियाणा परिवहन विभाग ने कांट्रेक्ट कैरिज परमिट के लिए विभिन्न एजेंसियों से आवेदन मांगे है।


हरियाणा, दिल्ली, उत्तरप्रदेश और राजस्थान के बीच 14 अक्टूबर 2008 को कांट्रेक्ट वाहनों के संचालन पर सहमति हुई थी।  इसके आधार पर एनसीआर में कैब या टैक्सी और ऑटो रिक्सा का संचालन किया जाना है। इसके तहत हरियाणा-दिल्ली के बीच 4000, हरियाणा-उत्तप्रदेश 1000, हरियाणा-राजस्थान केब बीच 500 विभिन्न वाहनों चलाने की योजना है। इन शहरों के बीच चलने वाले वाहनों को एक अलग लुक दिया गया है। इस वहनों डिजाइंनिंग नेशनल इंस्टीटय़ूट ऑफ डिजाइन अहमदाबाद ने किया है। इसके लिए संबंधित एजेंसी ऑटो रिक्सा, वाहन, कलर और टेक्स सहित आवेदन आरटीए गुड़गांव,रेवाडी, फरीदाबाद को आवेदन कर सकते है। इसमें सीएनजी वाहनों को 15 और डीजल वाहनों के लिए 8 साल तय किया गया है। एनसीआर में चलने वाले वाहनों को 6 ग्रुप में रखा गया है। पहले ग्रुप में एसेंट, स्टीम, इंडिगो, कोरसा, फ्लेयर, ग्रुप-2 में वैगन आर,ओमनी,एस्टीलो, मारूति वैन,मारूति-800,अम्बेस्टर,ग्रुप-3 में क्लालिस, सूमो,स्कॉपियो, इनोवा, ग्रुप-4 में ऑटो रिक्सा,ग्रुप-5 में मिनी बसऔर 6 में बस को रखा गया है। सभी के लिए एनसीआर को लोगो और कलर तय किया गया है। इसमें पहले एनसीआर बैंड-2 स्कॅाई ब्लू बीच में सीएनजी बैंड हरा फिर एनसीआर बैंड एक स्कॉई ब्लू की पट्टी होगी।।

सभी ग्रुप की कलर की साइज को अलग रखा गया है। कॉमन सिस्टम लागू होने से साइबर सिटी से दिल्ली, नोएडा,गाजियाबाद, मेरठ, अलवर, बागपत सहित अन्य शहरों में वाहनों का आना जाना सुगम हो सकेगा। आरटीओ विभाग के अनुसार इस निर्धारित मानकों को पूरा करने वाली एजेंसियों के आवेदन के बाद ही इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। फोरवा के अध्यक्ष धर्मसागर ने कहा कि एकीकृत परिवहन व्यवस्था लागू हो जाने से लोगों को कही भी जाने में आसानी होगी।


राज्य    कहांसे  तक  कुल वाहनों की संख्या
दिल्ली-यूपी  दिल्ली  यूपी   4000
   यूपी   दिल्ली  4000
दिल्ली-हरियाणा दिल्ली  हरियाणा 4000
   हरियाणा        दिल्ली 4000
यूपी-हरियाणा  यूपी  हरियाणा 1000
   हरियाणा यूपी  1000
राजस्थान-हरियाणा राजस्थान हरियाणा 500
   हरियाणा राजस्थान 500


एरिया
दिल्ली में 1483स्क्वायर किलोमीटर
हरियाणा में फरीदाबाद, गुड़गांव, रोहतक, सोनीपत,रेवाडी, झज्जर,मेवात और पानीपत में कुल 13413 किलोमीटर
राजस्थान में अलवर जिले तक 7829 स्क्वायर किलोमीटर
यूपी में मेरठ,गाजियाबाद, गौतमबुद्व नगर,बुलंदशहर, और बागपत मिलाकर 10853 स्क्वायर किलोमीटर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनसीआर के शहरों के बीच कम होगी दूरियां