DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बूटा का खूंटा, नहीं दूंगा इस्तीफा

बूटा का खूंटा, नहीं दूंगा इस्तीफा

बूटा सिंह ने रिश्वतखोरी के एक मामले में अपने पुत्र सरबजोत को सीबीआई के गिरफ्तार करने के चलते पद से इस्तीफा देने से शनिवार को इनकार कर दिया और दावा किया कि हो सकता कि उनके पुत्र ने दबाव में आरोप कबूला हो। उन्होंने कहा कि वह अपने बेटे के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।

संवाददाताओं ने सिंह से यह पूछा कि नासिक स्थित एक ठेकेदार से एक मामले को बंद करने के ऐवज में एक करोड़ रुपये की रिश्वत मांगने के आरोप में उनके पुत्र के गिरफ्तार होने के बाद क्या वह राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे देंगे। इस पर बिफरे सिंह ने कहा कि इस्तीफा, मुझे क्यों इस्तीफा देना चाहिये।

उन्होंने कहा, मैं एक संवैधानिक मंच का अध्यक्ष हूं। और मैं सक्षम हूं, तो मैं क्यों इस्तीफा दूं। बूटा सिंह को जब यह बताया गया कि उनके पुत्र ने घूस लेने का आरोप स्वीकार कर लिया है, तो पूर्व मंत्री ने कहा, हो सकता है कि उसने दबाव के चलते स्वाभाविक तौर पर ऐसा आरोप स्वीकार किया हो।

बूटा सिंह ने जोर दिया कि आरोप उनके और उनके परिवार के खिलाफ एक षड्यंत्र हैं। उन्होंने कहा कि मामले से संबंधित तथ्यों को बताने के लिए वह प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मिलेंगे।

बाद में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दावा किया कि स्वीटी ने स्वीकार किया कि उसके पिता बूटा सिंह पाटिल से घूस लेने बारे में जानते थे। बूटा सिंह ने कहा, ‘मैं हटूंगा नहीं। आयोग न्यायालय में यह शिकायत करेगा कि उसकी कार्यप्रणाली में हस्तक्षेप किया जा रहा है। सीबीआई आयोग की नहीं, एक आरोपी की शिकायत पर कार्य कर रही है।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बूटा का खूंटा, नहीं दूंगा इस्तीफा