अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रैक मूवमेन्ट में सुस्ती से अनाज का संकट

 रेलवे रैक मूवमेन्ट की कमी ने बिहार में गरीबों के लिए अनाज का संकट पैदा कर दिया है। रैक मूवमेन्ट में सुस्ती होने से गोदामों में समय पर जन वितरण प्रणाली का अनाज नहीं पहुंच पाता। खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग की हाल ही में हुई बैठक में यह समस्या राज्य खाद्य निगम के साथ कई जिलों के आपूर्ति पदाधिकारियों ने उठायी। इस पर सरकार ने भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) को रेलवे के साथ मिलकर नया रैक प्लान तैयार करने की सलाह दी है। ताकि अनाज की नियमित आपूर्ति हो सके। 

बैठक में राज्य खाद्य निगम (एसएफसी) के अफसरों ने रैक नहीं मिलने की चर्चा की। उनका कहना था कि खाद्यान्न उपलब्धता के अनुरुप रेलवे रैक का मूवमेन्ट नहीं कराया जाता है। इसके कारण जरूरत के समय गोदामों में अनाज की कमी हो जाती है। फिलहाल जो रैक प्लान है उसका दो-तिहाई भाग भी राज्य को समय पर नहीं मिल पाता।

नतीजा कभी गोदाम में गेहूं होता है तो कभी सिर्फ चावल। इस पर खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण सचिव त्रपुरारि शरण ने एफसीआई के अफसरों से जवाब-तलब किया। एफसीआई के प्रतिनिधियों ने बताया कि रैक प्लान में बदलाव करके मुवमेन्ट बढ़ाने के लिए रेलवे से संपर्क किया गया है। सचिव ने उन्हें हर हालत में अनाज की आपूर्ति समय पर कराने का निर्देश दिया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रैक मूवमेन्ट में सुस्ती से अनाज का संकट