DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह करोड़ की जमीन मुक्त

दिल्ली बॉर्डर पर इन्द्रप्रस्थ आवासीय योजना की अजिर्त करोडों की भूमि को जीडीए के प्रवर्तन दस्ते ने मुक्त कर लिया। लगभग दस हजार वर्गमीटर पर कालोनाइजर द्वारा अवैध रूप से की जा रही प्लाटिंग पर प्राधिकरण का बुल्डोजर चला। बुल्डोजर के गजर्न से प्लाटिंग कर रहे कोलानाइजर के लोग कार्यालय छोड़ भूमिगत हो गए। प्रवर्तन दस्ते ने कार्रवाई कर अवैध कब्जे से लगभग छह करोड़ कीमत की जमीन पर कब्जा ले लिया। कल से ही उक्त भूमि पर घेराबंदी की जाएगी ताकि आगे कोई भी इस तरह की जुर्रत न करे। कार्रवाई के दौरान प्राधिकरण का पुलिस बल भी मौजूद था। जीडीए उपाध्यक्ष रामबहादुर ने बताया कि उक्त जमीन लोनी क्षेत्र के गांव बंथला में है जहां प्राधिकरण की इन्द्रप्रस्थ आवासीय योजना है।

योजना के एफ ब्लाक पॉकेट में उक्त जमीन है जिसे प्राधिकरण ने सालों पहले किसानों से अधिग्रहित की थी। उन्होंने बताया कि बीते कुछ ही दिनों से अवैध प्लाटिंग के खिलाफ प्राधिकरण का अभियान शुरू है। गोविंदपुरम,रईसपुर, मुरादनगर,मोदीनगर के बाद शुक्रवार को इंन्द्रप्रस्थ योजना की जमीन पर बुल्डोजर चलाकर कब्जा लिया गया। गांव बंथला की इस बेसकीमती जमीन पर पहले एकाध झ़ग्गी बनाकर कब्जा किया गया,फिर पक्का आफिस खोलकर भूमाफिया ने अवैध रूप से प्लाटिंग कर कालानी बसाने की प्लांगिन कर ली। कई प्लाटों पर नींव तक निर्माण कार्य हो गया था। इसके बाद ही शुक्रवार को प्रवर्तन दस्ते को भेजा गया। प्रवर्तन प्रभारी एक्सईएन आर एल सरोज ने बताया कि बुल्डोजर से पहले कालोनाइजर के कार्यालय को ध्वस्त किया गया फिर कई प्लॉट पर किए गए निर्माण को भी जेसीबी से उखाड़ दिया गया। कार्रवाई के दौरान कालोनाइजर क लोग भूमिगत हो गए। अब इस जमीन पर चारदीवारी की जाएगी। उपाध्यक्ष ने बताया कि अब दुबारा किसी ने उक्त जमीन पर कब्जा किया तो उसके खिलाफ कार्रवाई के बाद पुलिस में मुकदमा भी लिखाया जाएगा। उधर संयुक्त सचिव लालचंद मौर्या ने बताया कि साहिबाबाद क्षेत्र में जीटी रोड पर सड़क पर किए गए अतिक्रमण को हटाया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छह करोड़ की जमीन मुक्त