अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दर्जनों विधुरों ने किया सम्पर्क

विधवाओं का होगा पुनर्विवाह-इस अभियान से कुंठाएं टूट रही हैं। विधवाओं के साथ विधुर भी पुनर्विवाह को लेकर खुलकर सामने आ रहे हैं। वे अपने जीवन की निजी समस्याएं भी हमसे बांट रहे हैं। उन्हें अब इंतजार है एकल महिला संघर्ष समिति द्वारा आयोजित होने वाले मिलन-परिचय समारोह का। बकौल अख्तरीबेगम समारोह की तिथि समिति की अगली बैठक में तय होगी।ड्ढr ड्ढr समाज का हर तबका इस अभियान में अपना हाथ बंटाने को उत्सकु है। वर्ष 1में एक विधवा सुधा मिश्रा का हाथ थामने वाले विधुर नंदकिशोर त्रिपाठी ने इस महायज्ञ में हर रूप में साथ देने का वादा किया। सुधा मिश्र ने कहा कि इस अभियान से महिलाओं की आपसी कटुता खत्म होगी। बेगूसराय के 68 वर्षीय रामेश्वर प्रसाद ने कहा कि संपत्ति है, पोते-पोती हैं पर पत्नी के नहीं रहने से जीवन का अंतकाल कष्टकर हो गया है। इनकी तरह ही गया के एक विधुर चिकित्सक को भी जीवन साथी के रूप में एक समझदार विधवा की खोज है। चिकित्सक की पत्नी तीन वर्ष पूर्व गुजर गयीं। दोनों छोटे बच्चे हास्टल में हैं और उनका जीवन एकाकी है। हमार पाठक एम के झा ने कहा कि हमें भी बिना बच्चा की एक विधवा की तलाश है। ग्राम संधा, जिला गया के रामरानुर शर्मा दो बेटी के 40 वर्षीय विधुर पिता हैं।ड्ढr ड्ढr पुनर्विवाह करना चाहते हैं। मानू चान्दपाली के अनुसार सामाजिक परिवर्तन बहुत जरूरी है। भगवानपुर के राजीव रंजन झा के अनुसार विधवा पुनर्विवाह का ये अभियान बिखर अरमानों को समेटने का एक स्वागतयोग्य कदम है। पटना की अल्का ने कहा कि आपने जिस मूवमेंट की शुरुआत की है वह हमार समाज को सिविलाइज्ड करने के लिए मील का पत्थर है। रजौली के न्यूटन अकेला कम उम्र के विधुर हैं। मिलन समारोह की जानकारी चाहते हैं। वेरिया नागरिक संघ के एस एन चौधरी कहते हैं विधवाओं के लिए पुनर्विवाह का प्रस्ताव बहुत अच्छा है। रमाकांत दांगी के मुताबिक समाज के पुरुषों की सोच बदले यह हमार सामाजिक क्रांति के लिए जरूरी है। खगड़िया के प्रकाश चन्द्र यादव ने इस अभियान के लिए धन्यवाद दिया है। अशरा फाउंडेशन के सचिव विकास कुमार इस सामाजिक पहल में सहयोग को तैयार है। वरूण कुमार ने लिखा कि वे इस प्रयास से खुश हैं। इसके अलावा राज्य के विभिन्न हिस्से से दर्जनों एसएमएस और फोन आए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दर्जनों विधुरों ने किया सम्पर्क