DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महाराष्ट्र सरकार व पुलिस को नोटिस जारी

महाराष्ट्र सरकार व पुलिस को नोटिस जारी

पटना निवासी युवक राहुल राज की पिछले साल 27 अक्तूबर को मुंबई में कथित फर्जी पुलिस मुठभेड़ में हुई मौत मामले की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग पर पटना हाई कोर्ट ने शुक्रवार को सीबीआई एवं केंद्र सरकार से इस संबंध में छह सप्ताह के भीतर जवाब मांगते हुए महाराष्ट्र सरकार एवं मुंबई पुलिस को नोटिस जारी किया।

राहुल राज के पिता कुंदन प्रसाद द्वारा इस मामले की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग को लेकर दायर एक याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करते हुए न्यायाधीश अजय कुमार त्रिपाठी ने यह निर्देश दिए।
 न्यायाधीश ने इस मामले में महाराष्ट्र सरकार एवं मुंबई पुलिस को नोटिस जारी करते हुए छह सप्ताह के भीतर अपना जवाब दायर करने को कहा। सुनवाई के समय महारष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस के वकील मौजूद नहीं थे।

राहुल के पिता ने अपनी याचिका में यह कहा था कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और मुंबई पुलिस आयुक्त से बार—बार अनुरोध किए जाने के बावजूद वहां की सरकार ने इस मामले में फारेंसिक रिपोर्ट की प्रति उन्हें नहीं उपलब्ध कराई। कुंदन प्रसाद ने अपने पुत्र को निर्दोष बताते हुए मीडिया में आई रिपोर्ट का हवाला देते हुए दावा किया था कि उनके पुत्र को मुंबई पुलिस ने जानबूझकर नजदीक से गोली मारकर हत्या की थी।

कुंदन का कहना था कि उनका पुत्र आपराधिक पष्ठभूमि का नहीं था और राहुल ने पटना के ही एक संस्थान से रेडियोलोजी (एक्सरे) में डिप्लोमा किया था और नौकरी की तलाश गत वर्ष 24 अक्तूबर को यहां से मुंबई गया था।

मुंबई में राज्य परिवहन की एक बस में सवार पटना निवासी 23 वर्षीय राहुल राज की गत वर्ष 27 अक्तूबर को पुलिस मुठभेड़ में मौत हो गई थी।
पिस्तौलधारी राहुल पर मुंबई के उपनगरीय इलाके कुर्ला बेल बाजार क्षेत्र में बस यात्रियों को बंधक बनाने की कोशिश करने का पुलिस ने आरोप लगाया था। मुंबई पुलिस का कहना था कि राहुल ने पुलिस पर गोली चलाई और जवाबी कार्रवाई में वह मारा गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महाराष्ट्र सरकार व पुलिस को नोटिस जारी