अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सामूहिक दुष्कर्म के मामले में फैसला 7 अगस्त तक स्थगित

बुद्धा जयंती पार्क सामूहिक दुष्कर्म मामले में शुक्रवार को अदालत का फैसला नहीं आ सका। पटियाला हाउस स्थित एडिशनल सेशन जज एस के सरवरिया की अदालत ने सामूहिक दुष्कर्म के मामले में फैसले की तारीख को 7 अगस्त तक के लिए स्थगित कर दिया है। इस मामले में राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात सेना के चार जवान आरोपी हैं।

  
घटना के समय राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात सेना के जवान हरप्रीत सिंह, सत्येन्द्र सिंह, कुलदीप सिंह और मनीष कुमार पर सामूहिक दुष्कर्म, बंधक बनाने और लूट की वारदात को अंजाम देने का आरोप है। अभियोजन पक्ष के अनुसार दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्र मोनिका(बदला हुआ नाम) 6 अक्तूबर 2003 को अपने बॉयफ्रेंड आशीष के साथ राष्ट्रपति भवन के नजदीक बुद्धा जयंती पार्क में घूमने गई थी। जहां आरोपी सुरक्षा गार्डो ने लड़के के साथ मारपीट व उससे कीमती चीज छीनकर उसे वहां से भगा दिया और लड़की के साथ दुष्कर्म किया। इस मामले में अभियोजन पक्ष ने अदालत में 25 गवाह पेश किए हैं। जबकि बचाव पक्ष की ओर से अदालत में एक गवाह पेश किया गया। पीड़िता ने भी अदालत में मामले की सुनवाई के दौरान चारों आरोपियों की पहचान कर ली है। अदालत ने ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद इस मामले में शुक्रवार की तारीख फैसले के लिए मुकर्रर की थी। किन्ही कारणवश आज फैसला नहीं आ सका। अदालत ने फैसले को 7 अगस्त तक के लिए टाल दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सामूहिक दुष्कर्म के मामले में फैसला 7 अगस्त तक स्थगित