अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एडीएम पिटाई मामला: विधायक को एक दिन की राहत

वाराणसी में सोमवार की शाम अपर जिलाधिकारी :प्रोटोकाल: आर के सिंह की समाजवादी पार्टी के विधायक अब्दुल समद अंसारी एवं पार्षद मनोज राय द्वारा अपने समर्थकों के साथ मिलकर की गयी पिटाई के मामले में शुक्रवार को फिर एक स्थानीय अदालत ने विधायक और पार्षद को आत्मसमर्पण के लिए एक दिन की मोहलत दे दी जिसके चलते उनकी संपत्ति की कुर्की अभी नहीं की जा सकेगी।

शुक्रवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अनुपस्थिति में प्रथम अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट रामकेश ने बचाव पक्ष की दलील सुनने के बाद आरोपियों को आत्मसमर्पण के लिए शनिवार तक का समय और दे दिया जिसके चलते अब आरोपियों की संपत्ति की कुर्की शनिवार तक नहीं हो सकेगी।

 आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सोमवार को हुई अपर जिलाधिकारी की पिटाई के इस मामले में प्रशासन ने मंगलवार को ही सपा विधायक एवं पार्षद को भगोड़ा घोषित कर उनके घरों पर आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 82 के तहत आत्मसमर्पण करने की नोटिस तामील कर दी थी जिसके बाद उन्हें मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट बीके जयसवाल की अदालत से भगोड़ों के खिलाफ धारा 83 के तहत कुर्की का आदेश हासिल कर इसकी कार्रवाई करनी थी।

लेकिन बुधवार को अदालत में इस मामले में हुई लंबी बहस के बाद मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया और मामले में सुनवाई की अगली तिथि आज की निर्धारित की थी और आज भी इस मामले में अदालत ने पुलिस को फरार सपा नेताओं की संपत्ति की कुर्की की अनुमति नहीं दी।
 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एडीएम पिटाई मामला: विधायक को एक दिन की राहत