अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वर्ल्ड कप मैचों पर पीसीबी ने पीछे खींचे कदम

वर्ल्ड कप मैचों पर पीसीबी ने पीछे खींचे कदम

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एजाज बट ने कहा कि बोर्ड ने उनके कोटे के वर्ल्ड कप मैचों के तटस्थ स्थान पर मेजबानी की मांग छोड़ी दी है और इसके बजाय वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद से ज्यादा से ज्यादा वित्तीय लाभ उठाने की कोशिश कर रहा है।

बट ने इस्लामाबाद में पत्रकारों से कहा कि हमने अपने वकीलों की सलाह के बाद वर्ल्ड कप मैचों के तटस्थ स्थान परमेजबानी की मांग छोड़ दी है क्योंकि आईसीसी के आईडीआई बोर्ड और वर्ल्ड कप के चार सह मेजबानों के बीच हुए करार में इस तरह की कोई धारा नहीं है, जिससे मैचों को तटस्थ स्थान पर करने की अनुमति दी जाए, इसलिए इस विकल्प का कोई सवाल नहीं है।

बट ने दावा किया कि तटस्थ स्थान पर मैच कराने की कोई धारा मौजूद नहीं होने के बावजूद बोर्ड ने अपने कोटे के मैचों की मेजबानी दुबई और अबुधाबी में कराने के लिए भरसक प्रयत्न किया, लेकिन यह असफल रहा। उन्होंने कहा कि अब हालात यह है कि हम अपने कोटे के मैचों की मेजबानी अपने देश या तटस्थ स्थान पर नहीं कर सकते इसलिए यह सामान्य सी बात है कि हम आईसीसी से ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाने की कोशिश कर रहे हैं।

बट ने इस बात पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया कि क्या पाकिस्तान ने आईसीसी और अन्य मेजबान देशों से 14 मैचों के लिए मेजबानी राशि के अलावा प्रवेश राशि और होर्डिंग से मिलने वाले धन की मांग की है, जिन्हें पाकिस्तान से हटा दिया गया है। उन्होंने कहा कि आप अटकलें नहीं लगा सकते। मैं हर चीज का खुलासा नहीं कर सकता, लेकिन यह सच है कि हमअपने कोटे के विश्व कप के मैचों को गंवाने की निराशा से ज्यादा से ज्यादा वित्तीय लाभ उठाने की कोशिश कर रहे हैं।

पीसीबी प्रमुख ने यह भी कहा कि सौहार्दपूर्ण हल निकालने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद से इस संबंध में बात चल रही है और उनके मुताबिक छह में से सिर्फ दो मुद्दे अनसुलझे रह गए हैं। उन्होंने कहा कि मैं बता सकता हूं कि हमने आईसीसी से छह मुद्दों पर चर्चा की। आईसीसी अध्यक्ष डेविड मोर्गन से मेरी हाल में हुई बातचीत में चार मुद्दे सुलझ गए लेकिन दो का हल नहीं निकल सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वर्ल्ड कप मैचों पर पीसीबी ने पीछे खींचे कदम