DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पत्नी को जिंदा जलाकर मारने वाले पति को उम्रकैद

आपसी विवाद में पत्नी को जिंदा जलाकर मारने वाले पति को अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। हालांकि पति का कहना था कि पत्नी ने खुदकुशी की है। परन्तु पीड़िता ने मृत्यु से पूर्व दिए बयानों में कहा था कि पति ने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जलाया है। बयान देने के एक घंटे बाद पीड़िता की मौत हो गई थी। कड़कड़डूमा स्थित एडिशनल सेशन जज ए के गर्ग की अदालत ने अनिल गोयल को पत्नी की हत्या का दोषी ठहराते हुए सजा सुनाई है।

पेश मामला मयूर विहार इलाके का है। 15 सितम्बर 07 को वीणा गोयल नामक महिला को जली अवस्था में लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां महिला ने क्षेत्रीय एसडीएम को बयान दर्ज कराते हुए बताया था कि उसके पति अनिल गोयल ने उसके ऊपर मिट्टी का तेल छिड़कर उसे जला दिया। बयान दर्ज कराने के एक घंटे बाद महिला की मौत हो गई। मृतका ने मृत्युपूर्व दिए बयानों में कहा था कि उसकी शादी वर्ष 1983 में अनिल से हुई थी। उसके एक बेटा और एक बेटी है। घटना वाले दिन पति से उसकी कहासुनी हो गई थी। जब वह बाथरुम में नहाने जा रही थी, तो पति ने उसके ऊपर तेल छिड़कर कर आग लगा दी। अदालत ने पीड़िता के मृत्युपूर्व दिए बयानों को अहम माना है। हालांकि अभियुक्त का कहना था कि पत्नी ने आत्महत्या की है। अदालत ने परिस्थितिजन्य साक्ष्य एवं पीड़िता के मृत्युपूर्व दिए गए बयानों के आधार पर अनिल को पत्नी का हत्यादोषी ठहराया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पत्नी को जिंदा जलाकर मारने वाले पति को उम्रकैद