DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधायक-सभासद पर मुकदमा दर्ज होने के विरोध में सपाई आंदोलित

विधायक अब्दुल समद अंसारी एवं सभासद मनोज राय धूपचंडी पर मुकदमा दर्ज होने के विरोध में सपाइयों ने आंदोलन छेड़ दिया है। सपाइयों की मांग है कि एडीएम-विधायक मारपीट प्रकरण की न्यायिक जांच करायी जाए। आंदोलन के पहले दिन गुरुवार को आजाद पार्क लहुराबीर चौराहे पर हाथ में काली पट्टी बांधे सपाइयों ने मौन रहकर धरना दिया।

दोपहर में जिलाध्यक्ष अखिलेश मिश्र व महानगर अध्यक्ष राकेश जैन के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं का जुलूस धरना स्थल पर पहुंचा। जुलूस के वक्त कार्यकर्ता मौन धारण किए हुए थे। काली पट्टी बांधे कार्यकर्ताओं के हाथों में सरकार विरोधी नारे लिखी पट्टियां थी। धरनास्थल पर कार्यकर्ताओं की उपस्थिति काफी कम दिखी।

हांलाकि पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता पूर्व विधायक राजनाथ यादव, अरविन्द सिंह, विधायक सुरेन्द्र पटेल, गोपाल जी यादव, गिरिजापति यादव की मौजूदगी से कार्यकर्ताओं में जोश दिखा। धरनास्थल पर पुलिस फोर्स व पीएसी भी तैनात रही। तीन घंटे तक चले धरने में भी कार्यकर्ता मौन रहे। बाद में सभा के दौरान जिलाध्यक्ष अखिलेश मिश्र ने कहा कि प्रशासन एकतरफा कार्रवाई कर रहा है।

विधायक के साथ र्दुव्यवहार करने वाले एडीएम पर अभी तक न तो केस दर्ज किया गया और न ही कोई कार्रवाई हुई। कहा कि शुक्रवार को वार्ड व न्याय पंचायत स्तर पर जुलूस व पुतला दहन किया जाएगा। कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न की कार्रवाई बंद नहीं हुई तो पूरे शहर में चक्का जाम किया जाएगा। धरने पर डा. उमाशंकर यादव, महेन्द्र यादव, गणोश यादव, रविकांत विश्वकर्मा, भीष्मनारायण सिंह, पार्षद प्रशांत सिंह पिंकू, मनीष राय आदि बैठे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:काली पट्टी बांध मौन रहकर धरना