अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महंगाई ने बिगाड़ा 90 फीसदी लोगों का बजट : हरीश जी

पूर्व वित्त मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता हरिश्चंद्र श्रीवास्तव ‘हरीश जी’ ने कहा कि महंगाई के प्रति केंद्र और राज्य सरकार पूरी तरह उदासीन हैं। इसके कारण 90 फीसदी लोगों का घरेलू बजट बिगड़ गया है। जब तक स्टाक लिमिट कम नहीं होगी, महंगाई पर काबू नहीं पाया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि एडीएम (प्रोटोकाल) के साथ मारपीट की घटना खेदजनक है। इस मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए। साथ ही विधायक को आत्मसमर्पण करने का मौका दिया जाना चाहिए। अफसरों-कर्मचारियों के हड़ताल से आम आदमी को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस समस्या का हल शीघ्र निकाला जाए।

श्री हरीश जी गुरुवार को गुलाब बाग स्थित भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि औद्योगिक उत्पादों के थोक मूल्य सूचकांक के आधार पर मुद्रा स्फिीति को नकारात्मक रूप से शून्य से नीचे बताकर केंद्र सरकार आम जनता को धोखा दे रही है। थोक और फुटकर सामानों के दाम में जमीन-आसमान का अंतर है। इसके कारण स्थिति विस्फोटक हो गई है।

फुटकर उपभोक्ता मूल्य के आधार पर सभी वस्तुओं को शामिल करते हुए महंगाई की दर निकाली जाए। केंद्र और राज्य सरकारों को सस्ते गल्ले की दुकानों सस्ते दर पर गेहूं, चावल, दाल, केरोसिन का वितरण कराया जाए। दुकानों पर रेट कंट्रोल सूची लगवाई जाए।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश को सूखाग्रस्त घोषित करते हुए किसानों को अनुदानित मूल्य पर डीजल मुहैया कराया जाना चाहिए। धान की जो रोपाई हुई, वह भी सूखने की स्थिति में है। सूख के कारण अकाल का अंदेशा बढ़ता जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महंगाई ने बिगाड़ा 90 फीसदी लोगों का बजट : हरीश जी