DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिड डे मील प्रकरण में 52 ग्राम प्रधानों को नोटिस

विद्यालयों का नया सत्र प्रारम्भ हुए एक मास से अधिक का समय व्यतीत होने के बाद में जिले के लगभग साढे छह सौ विद्यालयों में मिड डे मील नहीं परोसे जाने की शिकायतों पर जिला प्रशासन ने 52 ग्राम प्रधानो को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिये है और 40 ग्राम सचिवों के वेतन रोके जाने के आदेश पारित किये गये हैं।

जिला अधिकारी क़े धनलक्ष्मी ने मध्यान्ह भोजन से संबंधित विभिन्न अनियमितताओं, खराब भोजन तथा भोजन न परोसे जाने के प्रकरणो को लेकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को भी तत्काल प्रभाव से संबंधित विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को मुस्तैद करने के निर्देश दिये है।

बीएसए ने अपने आदेश में शिक्षकों को कहा है कि पहले वे स्वयं परोसे जाने वाले भोजन को चखेंगे और तभी उसका वितरण किया जायेगा। जिले के एक हजार 709 प्राथमिक एवं जूनियर विद्यालयों में लगभग दो दशमलव 27 लाख बालक बालिकायें अध्ययनरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मिड डे मील प्रकरण में 52 ग्राम प्रधानों को नोटिस