DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आगामी विधानसभा चुनाव ईवीएम के बजाय मतपत्र से हों

इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) ने चुनाव आयोग से इलेट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वसनीयता बहाल होने तक आगामी विधानसभा चुनाव मतपत्र से कराए जाने का आग्रह किया है।

इनेलो के प्रधान महासचिव एवं राज्यसभा सदस्य अजय चौटाला ने कहा कि अनेक गैर सरकारी संगठनों ने इवीएम मशीनों की विश्वसनीयता और इसके इस्तेमाल को लेकर सवालिया निशान लगाया है। बेहद गंभीर तथा अहम मामला है और जब तक इसकी विश्वसनीयता बहाल नहीं हो जाती तब तक इसके इस्तेमाल पर रोक लगाई जाए।
 
चौटाला ने इस बारे में तत्काल सर्वदलीय बैठक बुलाए जाने की मांग की है। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के कई घटक दलों तथा अन्य पार्टियां ईवीएम की विश्वसनीयता पर आशंका जता चुकी हैं। उन्होंने कहा कि आंध्रप्रदेश के एक स्वयंसेवी संगठन के अलावा दिल्ली के पूर्व मुख्य सचिव उमेश सहगल यह बात प्रमाणित भी कर चुके हैं कि ईवीएम के माध्यम से मशीन का कोड जानने वाला व्यक्ति किसी भी एक उम्मीदवार विशेष के पक्ष में असंख्य वोट डाल सकता है।

 उन्होंने कहा कि दिल्ली के पूर्व मुख्य सचिव यह मामला चुनाव आयोग के समक्ष भी उठा चुके हैं कि इन वोटिंग मशीनों के माध्यम से व्यापक स्तर पर गडबडी की आशंका से इंनकार नहीं किया जा सकता।
 
चौटाला ने कहा कि केन्द्र सरकार तथा चुनाव आयोग का फर्ज है कि वह इन मशीनों में विभिन्न राजनीतिक दलों का विश्वास बहाल करने और लोकतंत्र में लोगों की आस्था बनाए रखने के लिए ईवीएम को लेकर उठ रही उंगलियों पर सभी राजनीतिक दलों की राय जानने के साथ इन मशीनों की विश्वसनीयता को लेकर सभी संदेह एवं आशंकाओं को दूर करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आगामी विधानसभा चुनाव ईवीएम के बजाय मतपत्र से हों