अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिद्धार्थनगर के 155 गांव बाढ़ से प्रभावित

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थ नगर जिले में बूढ़ी राप्ती नदी के जलस्तर के गुरुवार को खतरे के निशान से दो मीटर ऊपर चले जाने से बाढ़ प्रभावित गांवों की संख्या बढ़कर 155 पहुंच गई हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि नदी का जलस्तर बढ़ने से कल रात अशोकवामरदहवा बांध के नबेल गांव के पास और सोनबरसाछगडिहवा बांध के पिपरहवा गांव के पास टूट जाने से एक दर्जन से जयादा गांव बाढ के पानी से घिर गए हैं।

सूत्रों ने बताया कि रामगंगा नदी का जलस्तर जहां धीरे-धीरे घट रहा है वहीं राप्ती के जलस्तर में बढोत्तरी हो रही है। जिले के बाढ़ से घिरे दो दर्जन से ज्यादा गांवों में बीमारी से पीडि़त लोगों के इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीमें भेजने के साथ ही सभी गांवों में नावों की भी व्यवस्था की गई है। कटे बांधों की मरम्मत के लिए सिंचाई विभाग के अभियन्ता मौके पर ही कैम्प कर रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि इस बीच कल बांसी नदी में एक व्यक्ति की डूबकर मृत हो जाने से जिले में बाढ़ और अतिवृष्टि से मरने वालों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिद्धार्थनगर के 155 गांव बाढ़ से प्रभावित