अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माइक्रोसॉफ्ट और याहू ने मिलाया हाथ

माइक्रोसॉफ्ट और याहू ने मिलाया हाथ

दुनिया में सूचना प्रोद्यौगिकी की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट कापरेरेशन और सर्च इंजन याहू इंक के बीच प्रतिद्वंद्वी सर्च इंजन गूगल से निपटने के लिए अगले दस वर्षों के लिए एक करार किया गया है। हालांकि दोनों कंपनियों ने विज्ञापन आय पर भागीदारी और अन्य किसी समझोते से इनकार किया है।

माना जा रहा है कि इससे माइक्रोसॉफ्ट के सर्च इंजन बिंग को बढ़ावा मिलेगा और याहू की विज्ञापन आय में वृद्धि होगी। हालांकि इससे निवेशकों को निराशा हुई है। जैकब एसेट मैनेंजमेंट के मुख्य निवेश अधिकारी रेयान जैकब का मानना है कि सौदे में याहू को कुछ धन मिलने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। यह लंबी अवधि का समझोता है। इसे लागू करने में वक्त लगेगा और परिणाम आने में और ज्यादा समय की जरूरत होगी। इसमें खतरा बना रहेगा। इससे बेहतर है कि कोई समझोता नहीं होता।

जैकब एसेट ने याहू में चार करोड़ डॉलर का निवेश किया है। समझोते की खबरें आने के बाद से अमेरिकी शेयर बाजारों में याहू और गूगल के शेयरों में गिरावट आई है, जबकि माइक्रोसॉफ्ट के शेयर मामूली बढ़त में है।

याहू का अनुमान है कि समझोते के बाद से उसके संचालन राजस्व में 50 करोड़ डॉलर वार्षिक का इजाफा होगा और पूंजी गत व्यय में 20 करोड़ डॉलर की बचत होगी। याहू का कहना है कि समझोते से उसकी कारोबारी पूंजी में 27 करोड़ 50 लाख डॉलर की बढ़त होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माइक्रोसॉफ्ट और याहू ने मिलाया हाथ