अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमीन फटने के कारणों की जांच शुरू

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले में विछवां क्षेत्र के ग्राम सुरजनपुर में जमीन फटने की घटना की जांच के लिए तीन सदस्‍य वैज्ञानिकों की टीम ने लखनऊ से यहां पहुंचकर जांच शुरू कर दी है।
 
गत मंगलवार को यहां जमीन फट गई थी और 35 फुट गहरा गड्ढा बन गया था। जिला प्रशासन के अधिकारी भी गांव की स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। बुधवार को गड्ढे की चौडाई बढ़ने से गांव के तीन मकानों में दरार आ गई। जिससे गांव के लोग दहशत में हैं। वैज्ञानिकों को आशंका है कि गड्ढे से 200 मीटर की दूरी पर स्थित तालाब तक जमीन अन्दर से खोखली हो चुकी है।
 
मुख्य विकास अधिकारी जे.बी.सिंह ने बताया कि गांव में जमीन फटने से बने गड्ढे के मिट्टी से भरवाने के निर्देश दिए गए हैं। जिले में भूगर्भजल स्तर के संरक्षण के लिए निर्देश दिए गए हैं कि 75 मीटर की दूरी पर इण्डिया मार्का हैण्डपम्प और 200 मीटर की दूरी पर टूबवेल लगाने पर दोषी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही होगी।
 
दूसरी तरफ सुरजनपुर गांव के लोगों ने प्रशासन के गड्ढा भरवाने के निर्णय का विरोध करते हुए धमकी दी है कि मामले की जांच पूरी नहीं हुई तो वह गांव से पलायन कर जाएंगें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जमीन फटने के कारणों की जांच शुरू