DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीलंका व पाकिस्तान में होगी जोरदार भिड़ंत

श्रीलंका व पाकिस्तान में होगी जोरदार भिड़ंत

श्रीलंका के हाथों टेस्ट सीरीज गंवा चुका पाकिस्तान गुरुवार से शुरू हो रही वनडे सीरीज में जीत के साथ जोरदार वापसी करने के लिए बेकरार होगा। लंबे समय बाद दोनों टीमों के बीच हो रहे वनडे मैच में मेजबान श्रीलंका और मेहमान पाकिस्तान दोनों ही एक दूसरे के ऊपर अपनी श्रेष्ठता साबित करने की कोशिश करेंगे।

जहां मेजबान टीम इस समय जीत के रथ पर सवार है तो पाकिस्तान की टीम इस दौरे पर हार के भयावह स्वप्न से पार पाने में अब तक नाकाम रही है। उन्हें टेस्ट सीरीज में मिली 0-2 की हार झेलनी पड़ी। इसके बाद श्रीलंकाई बोर्ड अध्यक्ष एकादश की टीम ने भी मेहमान टीम को जीत की राह पर लौटने नहीं दिया।

टेस्ट सीरीज में जीत के बाद मनोवैज्ञानिक लाभ तो मेजबान टीम के पास ही होगा ऐसे में जीत की इबारत लिखने के लिए पाकिस्तान की टीम को कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। अपनी धरती पर श्रीलंका की टीम बहुत ही खतरनाक मानी जाती है। आस्ट्रेलिया, श्रीलंका और भारत को छोड़कर कोई अन्य टीम पिछले कई सालों में श्रीलंकाई चीतों को उसकी धरती पर पटखनी नहीं दे पाई है। इसके बावजूद मेजबान टीम पाकिस्तान को हल्के में लेने की भूल बिल्कुल भी नहीं करेगी।

श्रीलंकाई कप्तान कुमार संगकारा को पता है कि पाकिस्तान के पास अब्दुल रज्जाक, शोएब मलिक और शाहिद अफरीदी के रूप में वनडे क्रिकेट के तीन बेहतरीन आलराउंडर हैं। इसके अलावा कप्तान युनूस खान, मोहम्मद युसूफ और मिसबाह उल हक के रूप में विरोधी गेंदबाजों के पसीने छुड़ा देने वाला मध्यक्रम भी पाकिस्तान के पास मौजूद है।

तेज गेंदबाजी में मोहम्मद आमेर, उमर गुल और राणा नावेद उल हसन के कंधों पर टीम की जिम्मेदारी होगी तो स्पिन का जाल बुनने के लिए सईद अजमल भी शाहिद अफरीदी के साथ तैयार होंगे। सलमान बट्ट की असफलता से सलामी बल्लेबाजी की समस्या पाकिस्तान के लिए परेशानी का सबब बन सकती है लेकिन इमरान नजीर के वापस आने और अभ्यास मैच में फवाद आलम के बढ़िया प्रदर्शन से टीम इस समस्या से भी बखूबी निजात पाने में सफल होगी।

दूसरी तरफ, मुथैय्या मुरलीधरन की वापसी से श्रीलंकाई टीम पहले की तुलना में ज्यादा मजबूत लग रही है। टीम के लिए सबसे बड़ी परेशानी इनफार्म सलामी बल्लेबाज तिलकरत्ने दिलशान की चोट को लेकर है जिसके कारण वह सीरीज के कुछ मैच नहीं खेल पाएंगे। दिलशान की जगह लंबे समय बाद टीम में वापस लौटे उपुल तरांगा, विस्फोटक सनत जयसूर्या के साथ पारी का आगाज करेंगे। इसके बाद मध्यक्रम की जिम्मेदारी कप्तान संगकारा, माहेला जयवर्धने, चमारा कापुगेदरा और तिलन कदांबी पर होगी। कापुगेदरा और कदांबी ने पाकिस्तान के साथ हुए अभ्यास मैच में शानदार प्रदर्शन किया था। आलराउंडर के मोर्चे पर एंगेलो मैथ्यूज और तिलन तुषारा मेजबान टीम के प्रमुख हथियार होंगे तो तेज गेदबाजी में लेसित मलिंगा और कुलशेखरा टीम की नैया पार लगाते नजर आएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्रीलंका व पाकिस्तान में होगी जोरदार भिड़ंत