DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपहरण के बाद छात्र की हत्या

विकासपुरी इलाके से एक छात्र का घर से चंद कदमों की दूरी पर दिनदहाड़े अपहरण करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई। उसका शव वसंतकुंज इलाके में सड़क किनारे से पुलिस ने बरामद किया है। अपहरणकर्ताओं ने 60 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी और बातचीत के बाद 20 लाख रुपये में बच्चे को छोड़ने को तैयार हो गए थे। पुलिस को वारदात के पीछे किसी परिचित के शामिल होने की आशंका है।


पुलिस के मुताबिक विकासपुरी एसबीआई अपार्टमेंट में रहने संजय चावला का बेटा रिबू चावला (16) पी.आर.मंगलम स्कूल में 11वीं कक्षा का छात्र था।  उसके पिता व्यवसायी हैं, जबकि मां आयुर्वेदिक क्लीनिक चलाती हैं। रिबू अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। वह मंगलवार की सुबह स्कूल गया था। दोपहर लगभग ढाई बजे वह अपनी स्कूटी पर घर लौट रहा था। दो अन्य दोस्त भी अपनी बाइक पर सवार थे। रिबू जब अपने अपार्टमेंट के पास पहुंचा तो सामने से एक वैगनआर कार ने उसकी स्कूटी को रोका। कार में बैठे युवकों ने उससे कुछ बातचीत की और फिर उसे जबरदस्ती अपनी कार में अगवा कर लिया। रिबू के साथियों ने जब शोर मचाकर उनका विरोध किया तो अपहरणकताओं ने दोनों को धक्का देकर गिरा दिया। इसके बाद वे अपनी कार में बैठकर फरार हो गए। शोर होने पर वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई जिसके बाद बच्चों ने मामले की जानकारी रिबू के घरवालों को दी।


अपहरणकर्ताओं ने कुछ समय बाद रिबू के परिजनों को फिरौती के लिए फोन किया। पुलिस जांच कर रही थी कि इस बीच बुधवार सुबह बच्चे का शव वसंतकुंज के सुल्तान गौरी इलाके में पड़ा हुआ मिला। रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या किए जाने की आशंका जताई गई है। एम्स अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। अपहरण के समय मौजूद रिबू के दोस्तों ने पुलिस को कार का नंबर भी बताया है। पुलिस कार नंबर और फोन के आधार पर बदमाशों की तलाश कर रही है। चर्चा है कि रिबू के परिजनों ने अपहरण करने वालों को कुछ राशि भी दी है, लेकिन पुलिस अधिकारी रकम देने की बात से इंकार कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अपहरण के बाद छात्र की हत्या