DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

1650 लोगों को मिला घर

एक सौ तीस मीटर चौड़ी रोड पर तीन शहरों के बीचों बीच 1650 लोगों के बसने की मुराद बुधवार को पूरी हो गई। 220 व 162 वर्ग मीटर के प्लाट पाकर लोग बेहद खुश थे। ड्रा में शामिल लोगों की किस्मत का पिटारा जेपी इंटर नेशनल स्कूल के छोटे-छोटे बच्चों ने खोला। ड्रा स्थल पर ही लोग प्लाट मिलने की खुशी में मिठाइयां बांट रहे थे। ड्रा स्थल पर करीब बीस हजार लोगों की भीड़ थी।

अथॉरिटी को इस बार बाहर भी अलग से सैकड़ों कुर्सियां डलवानी पड़ी। ड्रा को पारदर्शी बनाने के लिए ड्रा स्थल पर बाहर व अंदर सीसीटीवी कैमरों के अलावा ड्रा को बड़ी स्क्रीन पर दिखाया जा रहा था। इसके अलावा सिटी केवल व परिचौक डाटकाम पर सीधा प्रसारण किया जा रहा था। ड्रा स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इतंजाम किये गए थे। चारों तरफ बैरीकेटेक लगाई गई थी। भारी संख्या में पुलिस व पीएसी तैनात की गई थी। अथॅारिटी ने रेजिडेशियल स्कीम लांच की थी, जिसमें 220 व 162 वर्गमीटर के दो हजार प्लाट हैं। जिसमें से किसानों के लिए भी आरक्षित है, 1650 प्लाटों के लिए 30 हजार लोगों ने फार्म भरे थे। डीसीईओ शैलेन्द्र चौधरी ने बताया कि ड्रा बुधवार सवेरे शुरू कराया गया। 220 वर्ग मीटर के प्लाटों के लिए दो कैटेगरी बनाई गई थी, जिसमें एक मुश्त पैसा जमा करने वालों का अलग से ड्रा कराया गया। 220 वर्ग मीटर में 4000 हजार एक मुश्त जबकि 6000 हजार किश्तों वाले आवेदक थे। इसी प्रकार 162 वर्ग मीटर में 7000 हजार आवेदक एक मुश्त वाले थे जबकि 13 हजार आवेदक किश्त वाले थे। दोनों का अलग-अलग ड्रा कराया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:1650 लोगों को मिला घर