अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व मंत्रियों के खिलाफ निगरानी जांच महज छलावा:रघुवर

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा तथा उनकी सरकार के कुछ मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की निगरानी,जांच, को महज एक छलावा करार देते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष रघुवर दास ने बुधवार को कहा कि सरकार कोदेखना चाहिए कि निगरानी विभाग का राजनीतिक दुरूपयोग नहीं हो।
 
दास ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जनता की गाढ़ की कमाई की लूट से जुड़े इस प्रकरण की जांच और पहले ही शुरू हो जानी चाहिए थी। यह जांच निगरानी विभाग से बेहतर तरीके से सीबीआई कर सकती थी।
 
यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा मौजूदा जांच से संतुष्ट है। दास ने असंतोष जताते हुए कहा कि यह महज एक आईवॉश (छलावा) भर है। मै सरकार से अपेक्षा करता हूं कि निगरानी विभाग का राजनीतिक दुरूपयोग न हो।
 
ज्ञात रहे कि कोड़ा तथा उनके सरकार में मंत्री रहे निर्दलीय विधायकों भानु प्रताप शाही और बंधु तिर्की तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी "राजांका" के विवादास्पद मंत्री कमलेश सिंह के घरों पर निगरानी विभाग ने गत 24 जुलाई को छापेमारी की थी। भ्रष्टाचार तथा आय से अधिक संपत्ति रखने के मामले में खिलाफ हाल में निगरानी विभाग ने जांच शुरू की है।

दास ने कहा कि भाजपा अपने किसी भी नेता के खिलाफ किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार है। उन्होंने राज्य की जनता तथा संसाधनों की उक्त मंत्रियों द्वारा की गई कथित लूट में इनके सरकार को समर्थन देने वाली कांग्रेस पार्टी को भी बराबर को दोषी ठहराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूर्व मंत्रियों के खिलाफ निगरानी जांच महज छलावा:रघुवर