DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धार्मिक अधिकारों का सम्मान करे चीन: ओबामा

धार्मिक अधिकारों का सम्मान करे चीन: ओबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने जातीय और धार्मिक अल्पसंख्यकों के धार्मिक अधिकारों का सम्मान करने का आग्रह करते हुए कहा है कि उनका देश चीन के साथ मिलकर उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम से निपटेगा।

ओबामा ने अमेरिका-चीन रणनीतिक एवं आर्थिक वार्ता की शुरुआत करते हुए बुधवार को यह बात कही। ओबामा ने कहा कि अमेरिकियों का पक्का मानना है कि सभी लोगों के धर्म एवं संस्कृति की रक्षा और सम्मान किया जाना चाहिए और सभी लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता होनी चाहिए। चीन के अल्पसंख्यक जातीय और धार्मिक समुदायों को भी यह आजादी मिलनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अमेरिका और चीन मिलकर उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्रीकरण के प्रयास में सहयोग करेंगे। उन्होंने उत्तर कोरिया को स्पष्ट कर दिया है कि यदि वह अपने दायित्वों को पूरा करेगा तो सुरक्षा और सम्मान के रास्ते पर चला जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धार्मिक अधिकारों का सम्मान करे चीन: ओबामा