DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी, बिहार के सात शहरों में दो अगस्त को होगी यह परीक्षा

कर्मचारी चयन आयोग इस रविवार (दो अगस्त) को देशभर में डाटा इंट्री ऑपरेटर (डीईओ) की भर्ती परीक्षा आयोजित करने जा रहा है। केंद्रीय कार्यालयों में रिक्त पदों को भरने के लिए हो रही इस परीक्षा में इस बार परीक्षार्थियों की संख्या काफी बढ़ गई है।

इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले जो विद्यार्थी बीए-बीएससी करने की बजाए सीधे नौकरी में जाना चाहते हैं, वे इस परीक्षा में भाग्य आजमा रहे हैं। परीक्षार्थियों की संख्या अधिक होने और बिहार में परीक्षा के लिए ज्यादा केंद्र न मिलने के कारण आयोग के अफसरों को वाराणसी में भी केंद्र बनाने पड़े। इस कारण पटना और भागलपुर के सैकड़ों अभ्यर्थियों को वाराणसी तथा गोरखपुर के केंद्रों पर परीक्षा देनी पड़ेगी।

आयोग का बेली रोड स्थित मध्य क्षेत्र का दफ्तर यूपी और बिहार में भर्ती परीक्षाएँ करवाता है। डाटा इंट्री ऑपरेटर भर्ती परीक्षा यूपी के इलाहाबाद, लखनऊ, आगरा, गोरखपुर और वाराणसी तथा बिहार के पटना और भागलपुर में होगी। इन सातों जिलों में 125 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

इस परीक्षा के लिए एक लाख से अधिक आवेदन पत्र मिले थे। आवेदन पत्रों की स्क्रूटनी के बाद एक लाख परीक्षार्थियों को परीक्षा के योग्य पाया गया। पहले वाराणसी में परीक्षा केंद्र नहीं बनाया गया था पर भागलपुर और पटना में परीक्षा के लिए केंद्र न मिलने के कारण वाराणसी में भी केंद्र बनाए गए। भागलपुर तथा पटना के कुछ अभ्यर्थियों को वाराणसी के केंद्रों पर शिफ्ट किया गया है तो कुछ को गोरखपुर के केंद्रों पर भेजा गया है।

मध्य क्षेत्र के क्षेत्रीय निदेशक एके मिश्र ने बताया कि सभी पात्र अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र भेज दिए गए हैं। जिनका आवेदन पत्र अस्वीकार किया गया है, उन्हें भी कारण सहित इसकी सूचना भेजी जा चुकी है। जिन अभ्यर्थियों को अभी प्रवेश पत्र नहीं मिल सका है, वे 31 जुलाई तक बेली रोड स्थित आयोग के मध्य क्षेत्र दफ्तर में 10 से 5 बजे तक संपर्क कर डुप्लीकेट प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकते हैं। विकलांग और महिला अभ्यर्थी अपने अधिकृत प्रतिनिधि के माध्यम से भी प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकती हैं।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीईओ के लिए एक लाख अभ्यर्थी देंगे परीक्षा