अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुझ गया वृद्ध मां के घर का चिराग

विशनपुरा गांव में कांग्रेसी नेता की खूनी दीवार ने एक परिवार के घर का चिराग बुझ दिया। हादसे का शिकार हुआ अरशद (24) अपने घर का इकलौता कमाने वाला था। पांच वर्ष पहले वह नोएडा आकर बेलदारी का काम करके अपने परिवार का पालन पोषण करता था। वह कांशीरामनगर जिले के बैटाबढ़ारी गांव का रहने वाला था। 15 दिन पहले ही उसने अपनी पत्नी शेरवानों, बेटी नेहा (3), बेटा जुनैद (2) व दो माह की बेटी गुड़िया को गांव छोड़कर आया था। उसकी मां अतरवानों (60) घर पर अकेली रहती हैं। अभी तक इस अभागी मां को यह नहीं पता चल पाया है कि उसका बेटा अब इस दुनिया में नहीं रहा और न ही उसकी पत्नी को पता है कि उसका सुहाग अब उससे कभी नहीं मिलेगा। अरशद के रिश्तेदारों ने घर पर उसके घायल होने की सूचना भेजी है। करीब दो बजे पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे डाक्टरों ने सबसे पहले अरशद का पीएम कर शव को उनके रिश्तेदारों को सौंप दिया। देरशाम रिश्तेदार शव के लेकर गांव रवाना हो गये

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बुझ गया वृद्ध मां के घर का चिराग