DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दूध व एक्सपायरी डेट की सामग्री की नष्ट

स्वास्थ्य विभाग के खाद्य अनुभाग ने नंदप्रयाग व आसपास के बाजारों में दुकानों का औचक निरीक्षण कर अधोमानक पाये गए पदार्थो को मौके पर ही नष्ट किया। जिलाधिकारी अरूण कुमार ढौंडियाल के निर्देशों पर मुख्य खाद्य निरीक्षक प्रमोद सिंह रावत के नेतृत्व में नंदप्रयाग में निरीक्षण के दौरान 200 लीटर दूध मौके पर ही नष्ट किया गया। दो खुले दूध के नमूने जांच के लिए अधिकृत कर प्रयोगशाला भेजे गए।

निरीक्षण में एक्सपायरी डेट के घी, बिस्कुट, सौस इत्यादि को मौके पर ही नष्ट कर संबंधित दुकानदारों को चेतावनी दी गई कि यदि भविष्य में विक्रय नियमों का उल्लंघन पाया गया तो संबंधित के लाईसेंस निरस्त कर दिये जायेंगे। मुख्य खाद्य निरीक्षक प्रमोद रावत ने बताया कि इस अभियान के दौरान अब तक चार नमूने जांच के लिए जन विश्लेषक को भेजे गए हैं।

जिनमें दो नमूने खुले दूध, दो नमूने मसाले के शामिल हैं। उन्होंने बताया कि दुकानदारों को निर्देश दिए गए हैं कि खाद्य पदार्थो की गुणवत्ता की जांच कर ही ग्राहकों को बेचें। रावत ने बताया कि यदि प्रयोगशाला में भेजे गए नमूने अधोमानक पाये जाते हैं तो संबंधित के विरूद्ध खाद्य अपमिश्रण निवारण अधिनियम की धारा 7/16 के तहत कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने बताया कि भविष्य में भी इस प्रकार के अभियान समय समय पर चलाये जायेंगे। निरीक्षण में उनके साथ कपित देव, महानंद भट्ट आदि कर्मचारी शामिल थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दूध व एक्सपायरी डेट की सामग्री की नष्ट