अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएचयू के विभिन्न द्वार पर घंटों किया ग्रामीणों ने प्रदर्शन

काशी हिंदू विश्वविद्यालय परिसर में वाहन के प्रवेश प्रतिबंध को लेकर ग्रामीणों ने विश्वविद्यालय प्रशासन के मुख्य द्वार के अलावा अन्य द्वार को बंद करने के फैसले के विरोध में हैदराबाद गेट व न्यू मेडिकल इन्क्लेव (डाक्टर्स गेट) पर प्रदर्शन किया।


प्रदर्शनकारियों के साथ भाजपा विधायिका ज्योत्सना वास्तव भी धरने पर बैठ गईं। सूत्रों ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा परिसर में वाहन प्रतिबंधित किये जाने के विरोध में पिछले दो दिनों से स्थानीय लोगों द्वारा किया जा रहा विरोध प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी रहा और ग्रामीणों ने हैदराबाद गेट एवं डाक्टर्स गेट पर जमकर प्रदर्शन किया और आगजनी की।
   

दोनों गेटों पर ग्रामीणों ने सुबह से कब्जा कर दोपहर तक बंद रखा। इस दौरान परिसर से किसी भी वाहन को बाहर नहीं जाने दिया। बीएचयू प्रशासन को प्रदर्शनकारियों ने 48 घंटे का अल्टिमेटम देकर इस शर्त पर धरना प्रदर्शन समाप्त किया कि इस दौरान परिसर में उनके वाहनों को रोका नहीं जाएगा।
   

हैदराबाद गेट पर भाजपा विधायिका डा0 ज्योत्सना श्रीवास्तव के नेतृत्व में प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि यदि परिसर में उनके वाहनों को प्रवेश नहीं करने दिया गया तो परिसर में रहने वाले लोगों को भी बाहर नहीं जाने दिया जाएगा।
   

बाद में चीफ प्राक्टर प्रो एच सी एस राठौर सहित अन्य लोगों ने विधायिका ज्योत्सना श्रीवास्तव से इस मामले में वार्ता करनी चाही लेकिन नारेबाजी व शोर—शराबे के बीच कोई परिणाम नहीं निकल सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीएचयू के विभिन्न द्वार पर घंटों किया ग्रामीणों ने प्रदर्शन