अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रंग-बिरंगा बच्चों का कमरा

रंग-बिरंगा बच्चों का कमरा

बच्चे के कमरे को सजाने के लिए सबसे पहले उससे उसकी पसंद की चीजें पूछें। इसके बाद ही कमरे के इंटीरियर पर काम करें। बच्चे की छोटी-छोटी कल्पनाओं को साकार रूप देने की कोशिश बहुत ही सावधानी से करनी चाहिए।
 
बच्चों का कमरा रोशनी युक्त और हवादार होना चाहिए। दिन की रोशनी के अलावा ब्लू या रेड कलर का एक नाइट बल्ब भी होना चाहिए, ताकि बच्च रात में डरे नहीं। बच्चों के कमरे का साइज इतना तो होना ही चाहिए कि उसकी जरूरत की सारी चीजें उसमें आ जाएं। इसके अलावा पढ़ाई के लिए स्टडी डेस्क बनवाना भी जरूरी है। हो सके तो बच्चे के कमरे में अटैच बाथरूम बनवाएं। कमरे का फर्श ज्यादा चिकना नहीं होना चाहिए। फर्श पर अगर कारपेट बिछा सकें तो अच्छा है। बच्चे की पसंद का रंग पूछकर ही पेंट कराएं। कमरा लड़कियों का हो तो पिंक कलर और लड़कों का हो तो ब्लू कलर अच्छा रहता है।

बच्चे के कमरे में फर्नीचर उनके मूड के अनुसार खिलौनानुमा होना चाहिए। लड़की के कमरे को डॉल्स से और लड़कों के कमरे को कर्टून कैरेक्टर से सजाया जा सकता है। कमरे में रैक पर या बेड पर ही कुछ टैडीवियर रख सकते हैं। कमरे को  एनिमल चार्ट, अल्फाबेट्स या नंबर गेम्स लगा दें, ताकि बच्च उन्हें देखकर पहचाने और खेले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रंग-बिरंगा बच्चों का कमरा