DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सबूत नहीं तो गिरफ्तार नहीं होगा हाफिज सईदः पाक

सबूत नहीं तो गिरफ्तार नहीं होगा हाफिज सईदः पाक

पाकिस्तान ने मंगलवार को कहा कि वह भारत द्वारा मुंबई हमलों से जोड़े जा रहे जमात--उद--दावा प्रमुख हाफिज सईद को गिरफ्तार नहीं कर सकता क्योंकि उसके खिलाफ मुंबई हमलों में शामिल होने के बाबत कोई सबूत नहीं हैं।

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री रहमान मलिक ने कहा कि सईद को सिर्फ उससे जुड़े वक्तव्यों के आधार पर गिरफ्तार नहीं किया जा सकता और भारत से कहा गया है कि अगर सईद किसी अपराध में शामिल है, तो भारत उसके खिलाफ सबूत मुहैया कराए।

मलिक ने पाकिस्तान के जियो न्यूज चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा हमारे पास हाफिज सईद के खिलाफ कोई सबूत नहीं हैं। उन्होंने कहा हमने भारत से मांग की है और हम लगातार मांग कर रहे हैं कि अगर आपके पास सबूत हैं, तो आप हमें दें, लेकिन सिर्फ प्रचार न करें। मैं आपको आश्वासन देता हूं कि हम कार्रवाई करेंगे, लेकिन सिर्फ कानों--सुनी बातों पर हम अपने किसी नागरिक को गिरफ्तार नहीं कर सकते।

उन्होंने कहा अगर नई दिल्ली कोई विश्वसनीय कार्रवाई चाहती है तो उसे ठोस सबूत देने की जरूरत है। मलिक ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत से उन भारतीय नागरिकों के बारे में भी जानकारी मांगी है, जो कथित तौर पर मुंबई हमलों में शामिल थे। उन्होंने दावा किया कि भारतीय भी हादसों में बराबरी से शामिल थे।

उन्होंने कहा कि भारत को इस बारे में भी जानकारी देनी होगी कि कैसे हमलावर नाव से मुंबई तक पहुंचे और उनकी जांच नहीं हुई, इसके अलावा उनकी नाव में समुद्र में ईंधन किसने भरा।

संयुक्त राष्ट्र ने पिछले वर्ष जमात--उद--दावा को प्रतिबंधित लश्कर--ए--तय्यबा का मोर्चा घोषित किया था, जिसके बाद सईद को दिसंबर में नजरबंदी में रख दिया गया था। सईद को लाहौर हाई कोर्ट के दो जून के आदेशों के बाद नजरबंदी से मुक्त किया गया।

इस माह की शुरूआत में पंजाब और संघीय सरकार ने उसकी रिहाई को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। हालांकि इसके बाद पंजाब सरकार ने यह कहते हुए अपनी अपील वापस ले ली थी कि संघीय सरकार ने उसे सईद के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं उपलब्ध कराए।

लश्कर के कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी समेत पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा गिरफ्तार पांच कार्यकर्ताओं पर वर्तमान में एक आतंकवाद निरोधक अदालत में मुकदमा चल रहा है। पांचों पर मुंबई हमलों में कथित लिप्तता पर मुकदमा चल रहा है।

दूसरी ओर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी और भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के संयुक्त बयान में बलूचिस्तान का जिक्र आने के संदर्भ में मलिक ने कहा कि इस संबंध में अंतरराष्ट्रीय फोरम के सामने उचित समय पर सबूत पेश किए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सबूत नहीं तो गिरफ्तार नहीं होगा हाफिज सईदः पाक