DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘स्वास्थ्य को लेकर गंभीर नहीं सरकार’

राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान अगर डेंगू व मलेरिया फैला तो यहां के लोगों व विदेशी मेहमानों को खासी मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। इस बारे में दिल्ली सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं और न ही एमसीडी के साथ मिल बैठकर योजना को अंजाम देने को तैयार है।

ग्‍इस बारे में निगम ने सरकार को आगाह करते हुए कहा है कि जिस समय राष्ट्रमंडल खेले होने हैं उस समय डेंगू, मलेरिया व आंत्रशोध के लिए अनुकूल माहौल हो सकता है। ऐसे में इस दिशा में ठोस कदम उठाए जाने की जरूरत है।

पिछले दिनों एमसीडी की स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष डॉ. वी के मोंगा ने दिल्ली सरकार की स्वास्थ्य मंत्री किरन वालिया को पत्र भी लिखकर कहा है कि इस समय डेंगू व मलेरिया खासे चरम पर हैं और राष्ट्रमंडल खेलों के समय भी इन बीमारियों के फैलने की  आशंका है।

दिल्ली सरकार व एमसीडी इस बारे में मिल बैठकर कोई ठोस योजना बनाएं तो बेहतर होगा अन्यथा खेलों के दौरान आने वाले विदेशी मेहमानों के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है और इससे देश की छवि पर भी खासा असर पड़ सकता है। देश-विदेश से आने वाले मेहमान दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में ठरहेंगे।

डॉ. मोंगा ने बताया कि दिल्ली सरकार को पत्र लिखने के बाद कई बार कहा भी जा चुका है, लेकिन सरकार का रवैया इस मामले में उदासीन ही बना हुआ है। इसके अलावा सरकार ने इसके लिए कारगर कदम उठाने के लिए पर्याप्त बजट भी नहीं दिया है। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और सरकार को देशहित में इसके लिए कदम उठाना चाहिए। लगता है स्वास्थ्य को लेकर सरकार गंभीर नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:‘स्वास्थ्य को लेकर गंभीर नहीं सरकार’