DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कौन लिखे रिज्यूमे

वे लोग जो अपना रिज्यूमे खुद नहीं लिख सकते या लिखना नहीं चाहते, वे रिज्यूमे-राइटर से यह काम करवाते हैं। यह सच है कि बाजार में उपलब्ध प्रोफेशनल रिज्यूमे-राइटर आपकी तरफ से परफैक्ट और कामयाबी दिलाने वाला रिज्यूमे तैयार करके दे सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको ‘सही’ रिज्यूमे-राइटर का चयन करना पड़ेगा। आप विभिन्न जॉब वेबसाइट्स पर उपलब्ध सैम्पल रिज्यूमे पर नजर डालकर ये फैसला करें कि कौन सर्वश्रेष्ठ है। इसके बाद सही रिज्यूमे-राइटर की तलाश सावधानी से करें।

-जब आप सैम्पल रिज्यूमे चेक करें, तो इस्तेमाल की गई भाषा के प्रवाह पर गौर करें। भाषा ऐसी हो जो ठीक से कम्युनिकेट करे। लेखक आपके वैल्यू सिस्टम से पूरी तरह वाकिफ होकर असरदार ढंग से रिज्यूमे बनाए, तभी बात बनेगी।

-सावधानी से देखें कि रिज्यूमे-राइटर आप द्वारा मुहैया कराए गए कंटेंट को महज कॉपी-पेस्ट तो नहीं कर रहा? उसका तथ्यों का प्रस्तुतिकरण रणनीतिक और अपील करने वाला होना चाहिए।

-ये भी देखें कि राइटर को आपके कार्य क्षेत्र की कितनी जानकारी है। अच्छा हो, आप स्वयं ही इसके बारे में तफसील से बता दें। वरना वह रूटीन रिज्यूमे बना कर रख देगा।

-नामचीन करियर-पोर्टल्स से रिज्यूमे बनवाना ठीक रहता है। वहां आपका रिज्यूमे कौन लिखेगा, इसका तो पता नहीं चलता। लेकिन ये तय है कि उनको लिखना आता है।

-लेखक से आमने-सामने बैठकर बात करना अच्छा रहता है। लेकिन ध्यान रहे, ऐसा वैयक्तिक लेखकों के मामले में ही मुमकिन होता है। इससे रिज्यूमे में आपका पर्सनल टच लाया जा सकता है, जो जरूरी होता है।

-और अंत में, रिज्यूमे राइटर से उसके तजुर्बे वगैरह के बारे में जरूर पूछ लें। कहीं वह ट्रेनी न हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कौन लिखे रिज्यूमे