अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

61 में से 36 को जेई को दोबारा मिली पद्दोन्नति

दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के प्रदेश भर के डिमोशन हुए 61 जूनियर इंजीनियरों में से 36 को वापिस जेई प्रथम बना दिया गया है। बाकी जेई प्रमोशन के इंतजार में हैं। प्रमोशन मिलते ही जेई अपने काम पर लौट आए। विभाग ने प्रमोशन के ढाई साल बाद अनियमिताएं पाने के नाम पर उनका डिमोशन कर दिया था।

विभाग के अधीक्षण अभियंता (एच.आर) जे.बी.मुदगिल का कहना है कि बाकी 35 इंजीनियरों को वरिष्ठता के आधार व कागजों की जांच के बाद प्रमोट कर दिया जाएगा। पद्दोन्नति के आर्डर की कॉपी विभाग के सभी अधिकारियों को भेज दी गई है।

निगम ने 22 जुलाई को प्रदेश के 61 जूनियर इंजीनियरों फर्स्ट का डिमोशन कर दिया था। इसका कारण प्रमोशन में गलत तरीका अपनाया बताया गया था। इससे पहले उन्हें कारण बताओ नोटिस भी भेजा गया था। डिमोशन मिलने के बाद से जेई छुट्टी पर चल रहे थे। इसका खुलासा सबसे पहले हिन्दुस्तान ने किया था।

इसके बाद ही विभाग ने मामले में कार्रवाई करते हुए 61 में से 36 जूनियर इंजीनियरों को वापिस जेई फर्स्ट बनाने के आदेश जारी कर दिए। बाकी जेई को दोबारा पदेन्नति पाने के लिए  विभागीय कार्रवाई का इंतजार करना पडेगा।
जेई से दोबारा  जेई फर्स्ट बने

नारनौल के प्रभात, के.के.अहूजा, हनुमान,सतीश चंद, गुडम्गांव के धर्मसिंह,  आई.पी.दहिया, भास्कर यादव, सिरसा के किशन लाल, रघुनाथ, दलीप सिंह, हिसार के दीपक, ओमकार, चंद्र प्रकाश, फूला,इंद्रपाल, निहाल सिंह, भिवानी के ओम सिंह, मसदूल हुसैन,ओम सिंह, तेजपाल सिंह, ओमकुमार, मेगराज, व्रिकम, फरीदाबाद के हरिओम, संकटा, विनोद, राकेश कुमार छोकर, विनोद, मुकेश रोहिल्ला,हिसार के भजन सिंह, सिरसा के विनोद कुमार, मोहन लाल, गुडगाँव के उदय सिंह, हिसार के कुलदीप, हितेश कुमार,हिसार के नत्थू राम, राजेश कुमार है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:61 में से 36 को जेई को दोबारा मिली पद्दोन्नति