अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल के अन्दर होगी आठवी तक पढा़ई

उत्तर प्रदेश के कारागार महानिरीक्षक सुलखान सिंह ने कहा है कि अब राज्य की जेलों में कक्षा पांच से आठ तक की पढाई होगी। इनकी परीक्षाएं भी जेलों में ही कराई जाएंगी। इसके लिए बेसिक शिक्षा परिषद से स्वीकृति मिल गई है।
 सिंह ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि कक्षा पांच से आठवीं तक पढा़ई करने वाले बन्दियों को अब परीक्षा देने के लिए किसी की इजाजत नहीं लेनी पडे़गी और न ही उन्हें जेल से बाहर जाना पडे़गा। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जेल प्रशासन व बेसिक शिक्षा परिषद के बीच सहमति हो गई है।

उन्होंने आशा प्रकट करते हुए कहा कि बोर्ड परीक्षाओं के अगले सत्र में कक्षा पांच से आठ तक लगभग एक हजार पांच सौ कैदियों के भाग लेने की उम्मीद है। कारागार प्रशासन कैदियों को साक्षर बनाने के क्रम में हाईस्कूल, इण्टर और स्नातक की भी परीक्षाएं अब जेल के अन्दर ही कराने की योजना बना रहा है। शीघ्र ही इसे अमली जामा पहना दिया जाएगा। कक्षा पांच से आठवीं तक की पढाई करने वाले कैदियों को मुफ्त किताबें दी जाएंगी और उन्हें जेल के पास स्थित किसी परिषदीय विद्यालय से सम्बद्ध किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जेल के अन्दर होगी आठवी तक पढा़ई