अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक ने दिया आतंकवाद को बढ़ावा: ओबामा

पाक ने दिया आतंकवाद को बढ़ावा: ओबामा

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने स्वीकार किया है कि पाकिस्तान ने रणनीतिक लाभ के लिए आतंकवादियों को बढ़ावा दिया था, लेकिन अब पाकिस्तान को यह महसूस हुआ है कि यह उसकी एक बड़ी भूल थी।

अमेरिकी टीवी चैनल एबीसी को दिए एक साक्षात्कार में ओबामा ने आतंकवादी संगठन तालिबान के खिलाफ जारी ताजा सैन्य अभियान की तारीफ करते हुए इसे गंभीर तथा असाधारण बताया। उन्होंने कहा कि अमेरिका पश्चिमोत्तर पाकिस्तान में स्थिरता लाने में मदद कर रहा है।

उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अनुरोध किया कि इस संघर्ष के दौरान आतंरिक रूप से विस्थापित हुए लाखों लोगों को दी गई मदद जारी रखे, जिससे भविष्य में ये लोग तालिबान के समर्थक न बन पाएं।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना का ऐसा सैन्य अभियान पहले कभी नहीं देखा गया था। ओबामा ने कहा कि पाकिस्तान सरकार को इस बात का एहसास हो गया है कि आतंकवादियों को मदद देना एक बड़ी गलती थी और मैं आशा करता हूं कि वे लोग आतंकवादियों को वास्तविक रूप में पाकिस्तान के लिए गंभीर खतरे के रूप में देख रहे होंगे।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सेना अपनी ताजा सैन्य कार्रवाई में कुख्यात आतंकवादी संगठन अलकायदा और उसके सहयोगियों से मुकाबला करके कबाइली इलाकों में फिर से कानून व्यवस्था स्थापित करने का प्रयास कर रही है।

ओबामा ने कहा कि इस जगह से लाखों लोगों का विस्थापन इस सैन्य अभियान का नकारात्मक पहलू है और मैं इस बात से काफी चिंतित हूं। मैं नहीं चाहता हूं कि ये लोग आतंकवादियों की भर्ती प्रक्रिया का हिस्सा बनें। ओबामा ने कहा अलकायदा और तालिबान एक आतंकवादी संगठन हैं और हम इन लोगों को लेकर चिंतित है।

ये लोग छुपकर अपने हमले करते हैं इसलिए हमारा लक्ष्य यह सुनिश्चित करना होना चाहिए कि वे अमेरिका पर हमला न कर सकें। उन्होंने कहा कि अमेरिका अफगानिस्तान में किसी राज्य से नहीं लड़ रहा है बल्कि सीमाई आतंकवाद से लड़ रहा है और अमेरिका के इस संघर्ष को ‘विजय’ शब्द से संबोधित नहीं कह सकते।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक ने दिया आतंकवाद को बढ़ावा: ओबामा