DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश को लालू की सुरक्षा पर बोलने का हक नहीं : राजद

राजद ने कहा है कि लालू प्रसाद को केन्द्र से मिली जेड श्रेणी की सुरक्षा पर टिप्पणी करने का कोई अधिकार नीतीश कुमार को नहीं है। बिहार की जनता को तो वे सुरक्षा दे नहीं पा रहे हैं और जब  केन्द्र सरकार किसी को सुरक्षा देती है तो उसे गैरजरूरी बताते हैं।

 
पार्टी कार्यालय में शुक्रवार को प्रेस को संबोधित करते हुए प्रधान महासचिव राम कृपाल यादव ने कहा कि नीतीश कुमार और उनकी पार्टी दोनों को विकास और जनता की सुरक्षा से कोई मतलब नहीं है। उनका एकमात्र एजेन्डा है लालू प्रसाद और राबड़ी देवी की छवि को धूमिल करना। प्रसाद को केन्द्र द्वारा जेड श्रेणी की सुरक्षा बहाल किये जाने पर वे कहते हैं कि लालू प्रसाद को इसकी कोई जरूरत नहीं है। जबकि पूरा बिहार जानता है कि प्रसाद और राबड़ी देवी दोनों को माओवादियों और रणवीर सेना से खतरा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र बेशक लालू प्रसाद की सुरक्षा हटा ले लेकिन नीतीश कुमार को इसकी पूरी जवाबदेही लेनी होगी। इसके पहले उन्हें यह साबित भी करना होगा कि वे किसी को सुरक्षा देने का माद्दा रखते हैं। बिहार में विधि व्यवस्था की जो स्थिति है उससे नहीं लगता कि उनके भरोसे कोई सुरक्षित है। उन्होंने सवाल किया कि नीतीश कुमार खुद यह बतायें कि पहले के मुख्यमंत्रियों को मिलने वाली सुरक्षा से कितना अधिक बल उनकी सुरक्षा में तैनात किये गये हैं। उनके घर के आसपास बख्तरबंद गाडियां मंडराती रहती हैं और राबड़ी देवी की सुरक्षा में लगे जवानों के लिए गाड़ी तक नहीं दी जाती।
यादव ने कहा कि नीतीश कुमार की पार्टी के पास भी कोई नया एजेन्डा नहीं है। पार्टी अध्यक्ष ललन सिंह बार-बार केवल जमीन और नौकरी से जुड़े सवालों को उठा रहे हैं। उनका उद्देश्य सिर्फ लालू प्रसाद की छवि को घूमिल करना है। 


संवाददाता सम्मेलन में युवा राजद अध्यक्ष सतीश पासवान ने आरोप लगाया कि घोड़ासहन के विधायक लक्ष्मी नारायण यादव और उनके पुत्र के साथ घटी घटना में पुलिस एकतरफा कार्रवाई कर रही है। राजद इस मुद्दे पर चुप नहीं बैठेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नीतीश को लालू की सुरक्षा पर बोलने का हक नहीं