DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारा, करछना तापीय परियोजनाएं जेपी एसोसिएटस को सौपी गयी

उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लि़ ने इलाहाबाद के निकट प्रयागराज पावर जनरेशन कंपनी लि़ की बारा तथा संगम पावर जनरेशन कंपनी लि़ की करछना तापीय विद्युत परियोजनाएं जे पी एसोसिएटस को सौप दी हैं।
      

कारपोरेशन के सूत्रों के अनुसार  कल इसके प्रबंध महानिदेशक एवं अध्यक्ष नवनीत सहगल तथा जेपी एसोसिएटस की जेपी पावर वेंचर्स लि़ के अधिशासी अध्यक्ष मनोज गौड़ ने इन परियोजनाओं के शेयर क्रय अनुबंध पर हस्ताक्षर कर दिये।
      

सूत्रों ने बताया है कि 1980 मेगावाट क्षमता की बारा तथा 1320 मेगावाट क्षमता की करछना तापीय विद्युत परियोजनाओं को वर्ष 2013 तक स्थापित लक्ष्य है और यदि यह पूरा हो जाता है तो चार साल के भीतर प्रदेश में विद्युत उत्पादन में 3300 मेगावाट की वृद्धि संभव है।
      

कारपोरेशन के आधिकारिक आकंड़ों के अनुसार , उत्तर प्रदेश में फिलहाल 9000 मेगावाट विद्युत की प्रतिबंधित आवश्यकता के विपरीत कुल लगभग 3000 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है , जबकि 3500 मेगावाट बिजली केन्द्रीय पूल से मिलती है।प्राइवेट पब्लिक पार्टनरशिप (पीपीपी) के आधार पर लगने वाली बारा और करछना तापीय विद्युत परियोजनाओं के पूर्ण हो जाने पर उत्तर प्रदेश की विद्युत स्थित में काफी सुधार होने की आशा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बारा, करछना तापीय परियोजनाएं जेपी एसोसिएटस को सौपी गयी