अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अधिवक्ताओं की अप्राकृतिक मौत पर पांच लाख का मुआवजा

बिहार में हाल के दिनों में अधिवक्ताओं पर हमले की घटनाओं से चिंतित बिहार राज्य बार काउंसिल (बीएसबीसी) ने नियमित वकालत करने वाले अधिवक्ताओं की अप्राकृतिक मौत पर उनके आश्रितों को पांच लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है।
 
बार काउंसिल के अध्यक्ष पीके शाही ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा कि राज्य में काफी समय से अधिवक्ताओं पर हमले की घटनाएं होती रही हैं और हाल ही में आरा अररिया तथा बेगूसराय में उन्हें निशाना बनाया गया। उन्होंने कहा कि आरा व्यवहार न्यायालय में बम विस्फोट में वकील विनय कुमार तिवारी की मौत हो गई थी।

शाही ने तिवारी के आश्रितों को पांच लाख रूपया मुआवजा देने की घोषणा करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में कल को बीएसबीसी की विशेष समिति के सदस्य आरा जाकर आश्रितों को मुआवजे की राशि भेंट करेगी।
 
वकीलों की कल्याण की योजना के संबंध में शाही ने बताया कि किसी घटना में गंभीर रूप से घायल अधिवक्ता को दो लाख रुपए, जबकि मामूली रूप से घायल को 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि यह योजना जनवरी 2009 से प्रभावी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अधिवक्ताओं की अप्राकृतिक मौत पर पांच लाख का मुआवजा