DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिकी समाज में अब भी हावी है नस्लवाद : ओबामा

अमेरिकी समाज में अब भी हावी है नस्लवाद : ओबामा

राष्ट्रपति पद पर अपने निर्वाचन को बराक ओबामा ने अमेरिकी समाज के नस्लवाद के खिलाफ की गई प्रगति का उदाहरण बताया लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि नस्लवाद आज भी अमेरिकी समाज में मौजूद है।

ह्लाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में हार्वर्ड विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हेनरी लुई गेटस जूनियर की पिछले हफ्ते कैंब्रिज में गिरफ्तारी के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में ओबामा ने इस घटना को समाज में व्याप्त नस्लभेद का उदाहरण बताया।

ओबामा ने कहा, ‘मेरा यहां खड़ा होना नस्लवाद के खिलाफ अमेरिकी समाज की प्रगति को दिखाता है। इसके बावजूद सच्चाई यही है कि यह अब भी हमें भयभीत करता है।’ अमेरिका के पहले अफ्रीकी अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने कहा, ‘सच्चाई यही है कि आज भी अश्वेतों को बेवजह और ज्यादा निशाना बनाया जाता है या उन पर संदेह किया जाता है।’ उनका कहना था, ‘इसी कारण हम स्थानीय कानूनों और पुलिस नीतियों को बेहतर बनाने का काम कर रहे हैं ताकि संभावित भेदभाव को दूर किया जा सके और सभी सुरक्षित रह सकें।’

प्रोफेसर गेट्स पर लगाए आरोप खारिज किए जा चुके हैं। ओबामा ने सीएनएन को एक साक्षात्कार में कहा, ‘यह मेरे बारे में नही है, यह अमेरिका में रह रहे अश्वेत लोगों को निशाना बनाने से जुड़ा है।’ प्रोफेसर को अपना दोस्त बताते हुए ओबामा ने कहा, ‘मेरी समक्ष है कि प्रोफेसर गेटस अपने घर में थे और पुलिस आई होगी और फिर बहस हुई होगी। मुझे लगता है कि प्रोफेसर ने अपना पहचान पत्र दिखा कर कहा होगा कि देखो यह मेरा घर है और इसी बात पर र्दुव्यवहार के आरोप में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया होगा। बाद में उन पर लगे सारे आरोप वापस ले लिए गए।’

उन्होंने कहा, ‘पर मैं वहां था नही और न ही मुझे मामले की पूरी जानकारी है। इसलिए मैं यह नही कह सकता कि नस्ल की इसमें क्या भूमिका थी। लेकिन इस घटना के अलावा भी हम जनते हैं कि देश में अफ्रीकी और लैटिनी लोगों के साथ भेदभाव का लंबा इतिहास रहा है।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिकी समाज में अब भी हावी है नस्लवाद : ओबामा