अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली मैट्रो के खिलाफ मजदूरों का प्रदर्शन

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के निर्माण कार्य में सुरक्षा नियमों और श्रम कानूनों का आरोप लगाते हुए आल इंडिया सेंट्रल काउंसिल आफ ट्रेड यूनियंस (ऐक्ट) और दिल्ली बिल्डिंग वर्कर्स यूनियन ने गुरुवार को जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया।

मजदूरों ने आरोप लगाया कि दिल्ली मेट्रो में श्रम कानूनों का उल्लंघन हो रहा है और सुरक्षा तथा संरक्षा मानकों की अनदेखी की जा रही है। श्रमिकों ने केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री जयपाल रेड्डी को ज्ञापन सौंपा और मांग की कि डीआरएमसी तथा इससे जुड़ी गैमन और एफकान्स जैसी बड़ी-बड़ी कम्पनियों के पूरे कार्यकाल की उच्चस्तरीय जांच कराई जाये और श्रम कानूनों के उल्लंघन तथा सुरक्षा मानकों को ताक पर रखने के लिए कंपनी के अधिकारियों को दंडित किया जाए।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि राष्ट्रकुल खेलों की मेजबानी के लिए तय समय सीमा में दिल्ली को आलीशान बना डालने की दौड़ में कांग्रेस नेतृत्व वाली दिल्ली और केन्द्र की सरकारें मजदूरों के अधिकार और सुरक्षा नियमों की धज्जियां उड़ा रही है।

दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और संप्रग सरकार के केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री जयपाल रेड्डी मेट्रो दुर्घटनाओं को अपवाद बता रहे है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली मैट्रो के खिलाफ मजदूरों का प्रदर्शन