DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब टीचर्स भी मेंटेन करेंगे डेली डायरी

इस सत्र से बेसिक शिक्षा विभाग के सभी शिक्षकों को डेली डायरी मेंटेन करने के लिए कहा गया है। जिसमें वे बच्चों की होम वर्क की तरह ही यह रेकार्ड रखेंगे कि किस कक्षा में उन्होंने क्या पढ़ाया। डेली डायरी मेंटेन करने का यह कांसेप्ट एडीबेसिक डॉ. अशोक सिंह ने दिया है।

उनका मानना है कि डेली डायरी मेंटेन करने से शिक्षकों में भी पढ़ाने का मन करेगा, क्योंकि डायरी में लिखने के लिए वे प्रत्येक कक्षा में जरूर पढ़ाएंगे। साथ ही डायरी होने से  शिक्षक ने किस दिन क्या पढ़ाया इसका निरीक्षण करना आसान हो जएगा। उनका कहना है कि अगर कोई शिक्षक एक दिन अपनी डायरी में झूठ भी लिखता है कि उसने क्लास में फलां टॉपिक पढ़ाया तो वह निरीक्षण में पकड़े जने के डर से उस टॉपिक को कक्षा में पढ़ाएगा जरूर। इस तरह स्कूलों में शिक्षा का स्तर भी सुधरेगा।


गुरूवार को विभाग के औचक निरीक्षण के लिए आए बेसिक शिक्षा के एडीश्नल डायरेक्टर डॉ. अशोक सिंह ने बीएसए, एबीएसए और बीआरसी के साथ बैठक की जिसमें डेली डायरी के अलावा उन्होंने स्कूलों के टायलेट की सफाई के लिए स्कूल ग्रांट से पैसे लेने की भी अनुमती दे दी। उन्होंने सभी बीआरसी और एबीएसए को कहा कि वे बच्चों की उपस्थिति पर ध्यान दें। साथ ही उन्होंने बच्चों के आई कार्ड बनाने के काम को भी जल्अ निपटाने के लिए कहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब टीचर्स भी मेंटेन करेंगे डेली डायरी