DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीतने नहीं, सीखने जा रहे हैं हमः ब्रासा

जीतने नहीं, सीखने जा रहे हैं हमः ब्रासा

भारतीय हाकी टीम के मुख्य कोच जोस ब्रासा ने कहा कि टीम बारह टेस्ट के यूरोप दौरे पर जीतने नहीं बल्कि सीखने जा रही है क्योंकि मुख्य लक्ष्य अगले साल होने वाला विश्व कप है।

ब्रासा ने टीम की रवानगी से पहले हाकी इंडिया के लोगो के अनावरण के मौके पर पत्रकारों से कहा कि हमारा सामना इंग्लैंड, हालैंड, स्पेन और बेल्जियम जैसी शीर्ष टीमों से है। हम रैंकिंग में उनसे बहुत पीछे हैं। हमारा वास्तविक लक्ष्य उन्हें हराना नहीं बल्कि सीखने का है और यह सच्चाई हमें स्वीकार करनी होगी।

भारतीय टीम के साथ पहले दौरे पर जा रहे स्पेन के इस कोच ने कहा कि हम अगले साल होने वाले तीनअहम टूर्नामेंटों राष्ट्रमंडल खेल, वर्ल्ड कप और एशियाड को ध्यान में रखकर तैयारी कर रहे हैं। अभी शुरुआत है और हमें बहुत कुछ सीखना है।

वहीं, कप्तान संदीप सिंह ने घायल गोलकीपर बलजीत सिंह की गैर मौजूदगी को बड़ा झटका बताया लेकिन कहा कि खिलाड़ियों का मनोबल टूटा नहीं है और टीम अच्छा प्रदर्शन जरूर करेगी। उन्होंने कहा कि बलजीत की चोट से हम सभी दुखी हैं लेकिन हमारा ध्यान अगले लक्ष्य पर है। उसने भी हमसे इस हादसे को भुलाकर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए कहा है।

आधुनिक तकनीक पर जोर देने वाले ब्रासा ने उपकरणों के अभाव को स्वीकार करते हुए कहा कि वीडियो कैमरा जैसे कई आधुनिक उपकरणों की मुझे जरूरत है जो अभी तक नहीं मिले हैं। मुझे आश्वस्त किया गया है कि जल्दी ही ये चीजें मेरे पास होंगी। इनके बिना तैयारी बहुत मुश्किल है।

भारतीय खिलाड़ियों के साथ पांच सप्ताह के शिविर के बारे में ब्रासा ने कहा कि किसी भी कोच के लिए पांचसप्ताह का समय बहुत कम होता है। भारतीय खिलाड़ी अपार प्रतिभाशाली हैं लेकिन बेसिक्स के मामले में पीछेहैं। डिफेंस पर मेहनत करने की जरूरत है। इसके अलावा आखिरी क्षणों में गोल गंवाने की कमजोरी को भी दूर करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीतने नहीं, सीखने जा रहे हैं हमः ब्रासा