DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छींटाकशी हमारा हथियार है: वाटसन

छींटाकशी हमारा हथियार है: वाटसन

ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर शेन वाटसन का मानना है कि एशेज सीरीज के दौरान मैदान में खिलाड़ियों पर छींटाकशी पर प्रतिबंध लगाने के कारण ऑस्ट्रेलियाई टीम एक तरह से पंगु हो गई है।

वाटसन ने कहा कि हम पुराने समय में बेहतरीन टीम थे और इसके कई कारण थे। अब ऐसे में जब हमें छींटाकशी ही नहीं करनी है तो यह तो एक तरह से पीछे जाना होगा और ऑस्ट्रेलियाई टीम पीछे जाना पसंद नहीं करती है।

वाटसन ने खुलासा कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) द्वारा अपने खिलाड़ियों पर छींटाकशी से प्रतिबंध लगाने के कारण टीम की एशेज में संभावना धूमिल हुई है। उन्होंने कहा कि ये सही है कि इससे क्रिकेट को फायदा पहुंचता है। लेकिन हम ऐसा करके अपनी बढ़त नहीं गंवाना चाहते थे।

गौरतलब है कि सीए ने देश की जनता के बीच कराए एक सर्वेक्षण के बाद अपने खिलाड़ियों पर एशेज के दौरान छींटाकशी करने और छूटे हुए कैच को लेने की अपील नहीं करने का हुक्म सुनाया था।

वाटसन ने कहा कि हम जीत के लिए हरसंभव कोशिश करते हैं। क्योंकि यही सीए और ऑस्ट्रेलिया की जनता चाहती है।

उधर सीए ने अपनी सफाई मे कहा है कि उसने अपने खिलाड़ियों पर छींटाकशी के लिए प्रतिबंध नहीं लगाया है बल्कि उसने अपने खिलाड़ियों पर मैदान में ज्यादा आक्रमकता नहीं दिखाने को कहा है।

वाटसन के मुताबिक सीए ने हमसे कहा है कि मैदान में जरूरत से ज्यादा आक्रमकता नहीं दिखाना चाहिए। हालांकि हमारे लिए यह मुश्किल काम है क्योंकि हम जीतकर अपने देश की जनता के लिए रोल मॉडल बनना चाहते हैं। हम सब पूरा जी-जान लगाकर और सही तरीके से खेलते हैं। हममें से कोई भी नियमों के बाहर जाकर नहीं खेलना चाहता है।

गौरतलब है कि वाटसन चोट के कारण एशेज के पहले दो टेस्टो में नहीं खेल पाए थे लेकिन शुक्रवार से नॉर्थहैंपशायर के खिलाफ शुरू होने वाले अभ्यास मैच में उनके खेलने की संभावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छींटाकशी हमारा हथियार है: वाटसन