DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कसाब को गुमराह किया गया: हिलेरी

कसाब को गुमराह किया गया: हिलेरी

अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि मुंबई हमलों में हमलावर के रूप में शामिल एकमात्र जिंदा आतंकवादी आमिर कसाब वैचारिक रूप से कट्टर नहीं है, लेकिन उसे गुमराह कर हिंसा का रुख अख्तियार करने पर मजबूर किया गया है।

एशियाई क्षेत्रीय फोरम (एआरएफ) की गुरुवार को होने वाली बैठक में हिस्सा लेने आई हिलेरी क्लिंटन ने एक टेलीविजन टॉक शो के दौरान एक दर्शक के सवाल का जबाव देते हुए उक्त बातें कही। हाल ही में इंडोनेशिया में एक होटल पर हमले में इस्लामी कट्टरपंथियों की संलिप्तता और इसके प्रति अमेरिकी रुख के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उन कारणों पर विचार करना ज्यादा जरूरी है, जिनसे प्रभावित होकर युवा वर्ग आतंकवादियों के साथ जुड़ रहा है।

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि कसाब के कबूलनामा से इतना जाहिर होता है कि वह पूरी तरह वैचारिक कट्टरता का शिकार नहीं है, लेकिन निजी परिस्थितियों के कारण वह आतंकवादियों में शामिल हो गया। अमेरिकी विदेश मंत्री ने थाईलैंड में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा संदिग्ध अल कायदा आतंकवादियों से पूछताछ की बावत आए सवाल का कोई जबाव नहीं दिया।

क्षेत्र की प्रमुख ताकतों के साथ सहयोग के मसले पर भारत के महत्व को उकेरते हुए हिलेरी ने कहा कि भारत और अमेरिका आपस में कुछेक मतभेदों के बावजूद पर्यावरण परिवर्तन जैसे मुद्दों पर मजबूत साझेदारी के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका चाहता है कि दक्षिण पूर्व एशियाई देशों का दस सदस्यीय मंच अपने सदस्यों के माध्यम से म्यांमार पर लोकतंत्र की स्थापना के लिए दबाव बनाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कसाब को गुमराह किया गया: हिलेरी