DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

..तो निकल लें

सही समय पर जॉब बदल लेना करियर को आगे बढ़ाने के लिए बहुत जरूरी होता है। अगर ठीक वक्त पर गलत चॉइस से बाहर नहीं निकले, तो न केवल नया जॉब पाने के मौके खो देंगे, बल्कि अच्छे काम के बल पर बड़ी मेहनत से बनाई गई अपनी इज्जत भी खो देंगे।

पिछली कंपनी में मेरी एक सहकर्मी अपना काम जल्दी से खत्म करके ऑफिस टाइम में नेट-सर्फिग, अखबार पढ़ने और गप लड़ाने में मशगूल रहती थी। इस पर बाकी लोगों को, जो गुलाम की तरह काम में पिले रहते थे, बड़ी झुंझलाहट होती थी। वह कहती थी कि आगे कोई काम नहीं मिलने से वह बोर हो जाती थी। ऐसी स्थिति में, जब काम करने में मज़ा नहीं आए तो दूसरा जॉब तलाश लेना चाहिए।

यहां हम ऐसी कुछ स्थितियां बता रहे हैं, जिनके पैदा होने पर मौजूदा नौकरी से निकल लेना ही ठीक होगा।

जब घर से काम पर जाने का मन ही न करे, दिल में उदासी रहे, किसी काम से संतोष न हो, तो समझ लीजिए नई शुरुआत करने का वक्त आ गया।

जब आपकी नाखुशी चेहरे पर झलकने लगे और बॉस से लेकर साथियों तक हर कोई आपके सामने सवाल ही सवाल करते नज़र आएं, तो जल्दी से जल्दी नई नौकरी देख लेने में ही भलाई है।

जब काम के प्रति आपकी अनिच्छा और अरुचि आपके काम पर असर डालने लगे, आप अचानक ब्लंडर पर ब्लंडर करने लग जाएं, तो सब काम छोडकर सबसे पहले नया जॉब ढूंढना ही ठीक रहेगा।

जब ऑफिस में हर वक्त उनींदे महसूस करें और उबासियां आने लगे, या ऑफिस की मायूसी घर में गुस्सा बनकर फूटने लगे, तो खुद को फिट रखने के लिए भी नई नौकरी जरूरी हो जाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:..तो निकल लें