DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बदमाश आजाद, पुलिस नाकाम

सिनेमा हॉल में तोड़फोड़ और मारपीट करने वालों को पुलिस पांच दिन बाद भी गिरफ्तार नहीं कर पाई है। जबकि हॉल के सीसीटीवी कैमरे में मारपीट करने वालों की तस्वीरें कैद हैं। पुलिस इन तस्वीरों के आधार पर कुछ युवकों की पहचान भी कर चुकी है। लेकिन गिरफ्तारी न होने से पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं। हालांकि पुलिस कह रही है कि आरोपित हाथ नहीं आए तो उनके खिलाफ कुर्की की तैयारी जल्द शुरू की जाएगी।


रविवार दुपहर न्यू अंपायर सिनेमा हॉल में मुफ्त में फिल्म न दिखाने पर कुछ युवकों ने तोड़फोड़ और मारपीट कर दी थी। जिससे कई दर्शकों और कर्मचारियों को भी चोट आईं। कोतवाली पुलिस ने एनएसयूआई के छात्र नेता शिबु बहुगुणा समेत 30-40 युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। घटना के पांच दिन बाद भी पुलिस सिर्फ जांच की बात कर रही है। जबकि न्यू अंपायर सिनेमा प्रबंधन की ओर से सीसीटीवी कैमरे की रिकार्डिग जिसमें मारपीट करने वालों की तस्वीरें हैं, पुलिस को दी जा चुकी है। शुरूआत में शीघ्र कार्रवाई की बात करने वाली कोतवाली पुलिस लगता है अब बैकफुट पर आ गई है। शहर कोतवाल कैलाश पंवार ने बताया कि पुलिस ने सीसी कैमरे की रिकार्डिग देख ली है। इसके अलावा सिनेमा संचालकों से भी कुछ हमलावर युवकों का हुलिया पता कराया गया है। आरोपित युवकों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द हाथ नहीं आए तो उनके खिलाफ कुर्की की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।

सिनेमा हॉल बंद का निर्णय टला, काली पट्टी बांधेंगे
आरोपितों की गिरफ्तारी न होने पर गुरुवार से सिनेमा हॉल अनिश्चितकाल बंद का निर्णय दून सिनेमा हॉल एसोसिएशन ने फिलहाल टाल दिया है। एसोसिएशन के सचिव विरेंद्र पाल ने बताया कि प्रशासन से इस संबंध में वार्ता हुई है। आम जनता की सुविधा और प्रशासन के आश्वासन पर कुछ और दिन का समय दिया गया है। अब निर्णय हुआ है कि गिरफ्तारी न होने पर सभी सिनेमा हॉल के संचालक और कर्मचारी काली पट्टी बांधकर विरोध जताएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बदमाश आजाद, पुलिस नाकाम