DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'चंदू सर' की तारीफों के पुल बांधे तेंदुलकर ने

'चंदू सर' की तारीफों के पुल बांधे तेंदुलकर ने

पूर्व भारतीय कप्तान चंदू बोर्डे के 75वें जन्मदिन पर स्टार बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने 1989 के अपने शुरुआती पाकिस्तान दौरे को याद किया जब कोच के रूप में टीम के साथ मौजूद बोर्डे ने उन्हें क्रिकेट जगत से परिचित करवाया।

तेंदुलकर ने बुधवार रात आयोजित अभिनंदन समारोह में कहा कि अपने पहले विदेशी दौरे पर एक 16 वर्षीय खिलाड़ी को जिन संभावित चुनौतियों का सामना करना पड़ता, उनसे चंदू सर ने मुझे पार पाने का रास्ता दिखाया। उन्होंने मुझे बताया कि अपने नैसर्गिक खेल और तकनीक में कोई बदलाव किये बिना गलतियों में सुधार कैसे करना है।

तेंदुलकर ने क्रिकेटर के तौर पर अपने करियर को बनाने में बोर्डे के योगदान का जिक्र किया और कहा कि जिस अच्छे तरह से इस पूर्व आलराउंडर ने नेट्स पर उन्हें टिप्स दिये उससे उनका मनोबल बढ़ा।

उन्होंने कहा कि चंदू सर ने मेरे लिये जो कुछ किया उससे खेल के प्रति उनके जुनून का पता चलता है। उन्होंने मेरे लिये जो कुछ किया उसके लिये न तो कभी वाहवाही लूटी और न ही बदले में कुछ चाहा।

तेंदुलकर ने बोर्डे के साथ हाल की यादों का भी जिक्र किया जब वह 2007 के इंग्लैंड दौरे में मैनेजर के तौर पर टीम के साथ गये थे। उन्होंने कहा कि हमें ऐसे व्यक्ति का साथ चाहिए था जो हमें उत्तेजित नहीं होने दे और चंदू सर ने यही भूमिका निभायी। आयरलैंड और इंग्लैंड के 2007 के दौरे में हमारी सफलता में उनकी भूमिका अहम रही। जीत का श्रेय भले ही क्रिकेटरों को दिया जाता है लेकिन उनके जैसे सहयोगियों का भी इसमें अहम योगदान होता है।

पूर्व भारतीय कप्तान अजित वाडेकर ने कहा कि जब मैं खेला करता था तब बोर्डे का खेल के प्रति जूनुन ने कई मेरा आत्मविश्वास बढ़ाया। पूर्व टेस्ट खिलाड़ी और बोर्डे के साथी बापू नाडकर्णी ने कहा कि आप उनसे कहो कि आन ड्राइव या स्क्वायर कट लगाकर देखो और वह आज भी किताबी शैली में ऐसा कर दिखाएंगे।

बोर्डे ने इसके जवाब में कहा कि किस तरह से वह अपने पहले दो टेस्ट मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये थे। उन्होंने कहा कि मेरा करियर दांव पर लगा था। टेस्ट के दौरान मैं चेन्नई के होटल के कमरे में भगवान का नाम जप रहा था। ईश्वर की सच्ची प्रार्थना और विश्वास मेरी जिंदगी का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ क्योंकि अगले टेस्ट मैच में मैंने शतक जमाया। इस समारोह का आयोजन महाराष्ट्र क्रिकेट संघ ने किया था जिसमें फिल्म अभिनेता नाना पाटेकर भी शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'चंदू सर' की तारीफों के पुल बांधे तेंदुलकर ने