अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलजीत की वापसी मेरे लिए अहम: रोमियो

बलजीत की वापसी मेरे लिए अहम: रोमियो

बलजीत सिंह की आंख में लगी चोट के लिये परोक्ष रूप से खुद को कसूरवार मानने वाले भारतीय हॉकी टीम के गोलकीपिंग कोच रोमियो जेम्स का कहना है कि अगर बलजीत वापसी करता है तो यह उनके जीवन का सबसे खुशनुमा पल होगा।

जेम्स ने कहा कि वह मेरे जीवन का सबसे भयावह दिन था। मैं खुद को दोषी मानने लगा हूं। मुझे लगता है कि मेरी वजह से ही बलजीत को चोट लगी है क्योंकि चारों गोलकीपर मेरे साथ अभ्यास कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मैं उस दिन को ताउम्र नहीं भूल सकता। मैंने अपनी आंखों के सामने बलजीत को दर्द से तड़पते देखा है। अब मेरी एक ही ख्वाहिश है कि वह हॉकी के मैदान पर वापसी करे और ऐसा होता है तो वह मेरे जीवन का सबसे खुशनुमा पल होगा।

बलजीत को यूरोप दौरे से पहले पुणे में अभ्यास के दौरान गोल्फबाल आंख में लगी थी। उनका यहां एम्स में ऑपरेशन हुआ हालांकि उनकी वापसी की उम्मीद फिलहाल कम ही लग रही है ।
     
उस हादसे को याद करते हुए जेम्स ने बताया कि चारों गोलकीपर (बलजीत, एड्रियन डिसूजा, भरत छेत्री और पी श्रीजेश) और मैं अभ्यास के दौरान एक खेल खेल रहे थे। पहला गेम एड्रियन जीता था और दूसरे में बलजीत जीत रहा था। हमें लगा कि वह जीत की खुशी में हाथ हिला रहा है क्योंकि हम दस गज की दूरी पर थे तो देख नहीं पाये कि उसे गेंद लगी है।

उन्होंने कहा कि हेलमेट निकालने के बाद एहसास हुआ कि काफी गहरी चोट लगी है। तब हम उसे तुरंत अस्पताल ले गए।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बलजीत की वापसी मेरे लिए अहम: रोमियो