अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैज्ञानिकों ने मिथकों को किया दरकिनार

वैज्ञानिकों ने मिथकों को किया दरकिनार

आम आदमी के मन में सूर्य ग्रहण से जुड़े अनेक मिथकों को दूर करने के लिए वैज्ञानिकों और डॉक्टरों ने अनेक जानकारियां दी। ग्रहण देखने के लिए तारेगना में इकट्ठा हुए हजारों लोगों के बीच वैज्ञानिकों ने मिठाईयां बांटी ताकि इस मान्यता को दूर किया जा सके कि ग्रहण के दौरान खाना नहीं चाहिए।

इस मौके पर तारेगना में मौजूद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्वयं मिठाई खाईं और उपस्थित लोगों से वैज्ञानिक सोच विकसित करने को कहा। स्वयंसेवी संगठन स्पेस के महासचिव सचिन भंबा ने कहा कि हमने मौजूद लोगों को मिठाईयां खिलाईं और उन्हें इसके लिए प्रोत्साहित किया ताकि वे इस अंधविश्वास को दूर कर सकें कि ग्रहण के दौरान हमें खाना नहीं चाहिए।

एक अन्य स्वयंसेवी संगठन मंथन ने भी ग्रहण से जुड़े मिथकों को दूर करने का प्रयास किया। विश्वास है कि ग्रहण के साथ ही आपदाएं और बीमारियां फैल जाती हैं। संगठन के समन्वयक कांतन कोठारी ने कहा कि हमने लोगों और बच्चों के लिए गतिविधियों और प्रेक्षणों का आयोजन किया ताकि उन्हें समझाया जा सके कि यह खगोलीय घटना क्या होती है। उन्होंने कहा, हमने भ्रांतिपूर्ण मान्यताओं को दूर करने के लिए वैज्ञानिक कारण बताए।

मंथन के समन्यवक कांतन कोठारी ने कहा, हमने लोगों और बच्चों को जागरूक करने के लिए गतिविधियां की ताकि उन्हें जानकारी हो सके कि यह घटना क्या और क्यों होती है। नेहरू तारामंडल की निदेशक रत्नाश्री ने कहा, हमने विज्ञान और प्रौद्योगिकी परिषद के साथ बच्चों और वयस्कों के लिए कटनी, उज्जैन, भोपाल और जबलपुर में कार्यशालाएं आयोजित की। हम उन्हें यह बताना चाहते थे कि यह पूरी तरह से वैज्ञानिक घटना है और इसका इन बातों से कोई लेना देना नहीं है।

ऐसा माना जाता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर में ही रहना चाहिए और भोजन नहीं करना चाहिए। लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि नंगी आंखों से देखने पर होने वाले नुकसान के अलावा इससे किसी तरह के नुकसान की आशंका नहीं है। फोर्टिस अस्पताल से जुड़ी स्त्री रोग विशेषत्र डॉ. शिवानी सचदेवा ने कहा, ग्रहण वाले दिन प्रसव होना पूरी तरह सुरक्षित है, लेकिन अनेक मिथकों के चलते लोग इससे डरते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वैज्ञानिकों ने मिथकों को किया दरकिनार