अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रहण के दौरान किए गए कई वैज्ञानिक प्रयोग

ग्रहण के दौरान किए गए कई वैज्ञानिक प्रयोग

21वीं सदी के सबसे लंबे समय तक होने वाले पूर्ण सूर्य ग्रहण के दौरान प्रयोग और अध्ययन करने के अनूठे मौके का इस्तेमाल करने के लिए वैज्ञानिकों ने कोई मौका नहीं छोड़ा।

इस पूर्ण ग्रहण को वैज्ञानिकों ने जीवन में सिर्फ एक बार घटित होने वाली खगोलीय घटना करार दिया है। जैसे ही सूर्य ग्रहण की शुरुआत हुई, सभी खगोलविदों ने अपनी दूरबीनों को आसमान की ओर केन्द्रित कर दिया, ताकि वे चंद्रमा द्वारा सूर्य को ढंक लिए जाने की इस अदभुत घटना के एक-एक लम्हे को देख सकें।

इनमें से अनेक बिहार के तारेगना में इकट्ठा थे, जिसे नासा ने इस घटना को देखने का सर्वश्रेष्ठ स्थान करार दिया था जबकि अन्य मध्य प्रदेश के कटनी की पहाड़ियों पर चढ़े हुए थे। यहां तक कि वाराणसी के विश्व प्रसिद्ध घाटों पर भी उन्होंने अपने साजो सामान के साथ मोर्चा जमाया हुआ था।

बेंगलुरु स्थित भारतीय खगोलभौतिकी संस्थान के वैज्ञानिक आरसी कपूर ने कहा कि हमने सूर्य के कोरोना के अध्ययन के लिए प्रयोग किए। इसके लिए किसी फिल्टर का इस्तेमाल नहीं किया गया था, लेकिन हमने इस प्रक्रिया को समझने के लिए उच्च गुणवत्ता वाले टेली लेंस का इस्तेमाल किया।

संस्थान के अन्य सहयोगियों के साथ कपूर वाराणसी में मौजूद थे, जहां सूर्य को चांद ने पूरे तीन मिनट दस सेकेंड के लिए ढंक लिया था। कपूर ने कहा, सूर्य के चारों ओर आयनीकृत गैसों के गर्म वातावरण, सौर कोरोना को केवल सूर्य ग्रहण की पूर्णता की स्थिति में ही देखा जा सकता है। संस्थान के वैज्ञानिकों और पेशेवर खगोलविदों का एक दल पूर्वी चीन के अनजी गया था, जहां उसने ग्रहण के दौरान प्रयोग किये। यहां पूर्णता अवधि में ग्रहण को पांच मिनट 38 सेकेंड तक देखा जा सकता था।

संस्थान के निदेशक सिराज अहमद ने छह वैज्ञानिकों के एक दल का नेतृत्व किया जो सौर कोरोना में तरंगों के अस्तित्व, उनकी प्रकृति और सतह से भी ज्यादा सूर्य की बाहरी परत में तापमान के कारणों को जानने की खोज में था। अनजी में वैज्ञानिक दल ने एक प्रेक्षण शिविर स्थापित किया था, जहां उन्होंने सूर्य की रोशनी और कोरोना के प्रकाश को लिट्रो टाइप स्पेक्ट्रोग्राफ के छिद्र में भेजने के लिए 30 सेंटीमीटर ऊंचे कांच को लगाया था

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ग्रहण के दौरान किए गए कई वैज्ञानिक प्रयोग